फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटSRH की क्यूट सी फैन ने अभिषेक शर्मा को लगाया गले, IPL 2024 Final हार के गम को किया कम

SRH की क्यूट सी फैन ने अभिषेक शर्मा को लगाया गले, IPL 2024 Final हार के गम को किया कम

SRH की एक क्यूट सी फैन ने अभिषेक शर्मा को गले लगाया, क्योंकि वे IPL 2024 Final हारने के बाद रो पड़े थे। ऐसे में नन्हीं से फैन ने उनके गम को कम करने का काम किया। अभिषेक शर्मा लगातार रन बना रहे थे। 

SRH की क्यूट सी फैन ने अभिषेक शर्मा को लगाया गले, IPL 2024 Final हार के गम को किया कम
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 27 May 2024 09:19 AM
ऐप पर पढ़ें

सनराइजर्स हैदराबाद यानी एसआरएच को जैसे ही आईपीएल 2024 फाइनल में कोलकाता नाइट राइडर्स यानी केकेआर के हाथों हार मिली, वैसे ही एसआरएच के ओपनर अभिषेक शर्मा भावुक हो गए। वे मैदान पर इमोशनल नजर आए और जमीन पर बैठ गए। कुछ ही देर बाद उनको एक क्यूट सी बच्ची ने गले लगाया और उनके गम को कम करने का काम किया। अभिषेक शर्मा के लिए ये पल टूर्नामेंट का सबसे यादगार रहा होगा। 

एसआरएच को केकेआर ने लगभग एकतरफा फाइनल मैच में 8 विकेट से मात दी। अभिषेक शर्मा का बल्ला इस टूर्नामेंट में जमकर बोला था, लेकिन फाइनल मैच में उनको मिचेल स्टार्क ने क्लीन बोल्ड कर दिया था। अभिषेक शर्मा पहले ओवर की पांचवीं गेंद पर ही आउट हो गए थे। अभिषेक शर्मा के लिए ये दिन भुलाने वाला रहा, लेकिन आखिरी में जब उनको एसआरएच की एक नन्हीं फैन ने हग किया तो उनको थोड़ी सी सांत्वना मिली होगी।

अभिषेक शर्मा की बात करें तो उन्होंने आईपीएल 2024 में 16 मैचों में कुल 484 रन बनाए। उनका औसत 32.27 का था, जबकि स्ट्राइक रेट उनका 204.22 का था। अभिषेक ने 36 चौके और 42 छक्के टूर्नामेंट में जड़े। इस टूर्नामेंट में 450 या इससे ज्यादा रन आधी से भी कम गेंदों में बनाने वाले पहले बल्लेबाज हैं। उन्होंने 484 रन 240 से भी कम गेंदों में बनाए। ये दर्शाता है कि वे कितनी तेज गति से बल्लेबाजी कर रहे थे। 

KKR vs SRH Final: सुनील नरेन बने आईपीएल 2024 के मोस्ट वैल्युएबल प्लेयर, तीसरी बार यह अवॉर्ड जीतकर रचा इतिहास

वहीं, अगर बात फाइनल मुकाबले की करें तो एसआरएच ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी थी और टीम 113 रन बनाकर ढेर हो गई थी। हैदराबाद की टीम ने 114 रनों का लक्ष्य कोलकाता के सामने रखा था, जिसे केकेआर ने 11वें ओवर में ही 2 विकेट खोकर हासिल कर लिया। इस तरह कहा जा सकता है कि फाइनल मैच एकतरफा था, क्योंकि 17 साल के इतिहास में इतनी कम गेंदों में आईपीएल का फाइनल खत्म नहीं हुआ था।