DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

U-19 WC: 18 साल के इस गेंदबाज ने दिखाई ऐसी रफ्तार, गांगुली और सहवाग भी रह गए हैरान

कमलेश का कमाल
कमलेश का कमाल

18 साल की उम्र में 146.8 किमी की रफ्तार वाकई दंग करने वाली है। वह भी न्यूजीलैंड की भूमि पर। कुछ इसी तरह की चर्चा होती रही विश्व के बड़े क्रिकेटरों के बीच। यह कमाल करने वाला कोई बड़ा क्रिकेटर नहीं बल्कि बागेश्वर का कमलेश नगरकोटी है, जो न्यूजीलैंड में आईसीसी अंडर -19 वर्ल्ड कप खेल रहा है।  

INDvAUS U-19 वर्ल्ड कप: इंडिया ने जीता मैच, ऑस्ट्रेलिया को 100 रनों से हराया

14 जनवरी को आस्ट्रेलिया के खिलाफ अंडर-19 वर्ल्ड कप में कमलेश नगरकोटी ने 146.8 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंककर न सिर्फ साथी बल्लेबाजों को बल्कि विश्व के बड़े बड़े गेंदबाजों को भी चौंका दिया। भारत ने अपने पहले मुकाबले में आस्टे्रलिया के खिलाफ 328 का लक्ष्य रखा था। जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया 228 रन पर सिमट गया। इसका पूरा श्रेय उभरते तेज गेंदबाज कमलेश नगरकोटी को जाता है। कमलेश ने 7 ओवर में 29 रन देकर 3 विकेट लिए। इस मैच में सबसे तेज गेंद फेंकने का रिकार्ड भी कमलेश के नाम ही हुआ।

RECORD: ऋषभ पंत का तूफानी शतक, रोहित समेत इन खिलाड़ियों को पीछे छोड़ा

रिकॉर्ड बनाते-बनाते रह गए कमलेश 
अंडर-19 विश्व कप के पहले मैच में कमलेश 147 किमी प्रति घंटे की रफ्तार का रिकार्ड तोड़ने से चूक गए। कमलेश की सबसे तेज गेंद 146.8 किमी प्रति घंटा की रफ्तार की थी। इससे पहले वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज अल्जारी जोसेफ ने साल 2016 के अंडर-19 विश्व कप क्रिकेट टूर्नामेंट में 147 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकी थी।

आगे पढ़िए कमलेश की सक्सेस पर क्या बोलें गांगुली और सहवाग...

INDvSA: टीम इंडिया के चयन पर 6 पूर्व खिलाड़ियों ने उठाया सवाल, कहा कोहली को दिखायें बाहर का रास्ता

कमलेश ने दिखाई ऐसी रफ्तार
कमलेश ने दिखाई ऐसी रफ्तार

लाइनलेंथ पर भी नियंत्रण : इयान बिशप
कमलेश नगरकोटी की गेंदबाजी की रफ्तार को देखकर क्रिकेट के दिग्गज भी हैरान हैं। वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज इयान बिशप ने कहा कि भारत के इस युवा तेज गेंदबाज शानदार है। नगरकोटी का रफ्तार के साथ लाइनलेंथ पर भी नियंत्रण है। तेज गेंद फेंकना सिखाया नहीं जा सकता, यह खुद की मेहनत से होता है। 

नगरकोटी की शानदार स्पीड : गांगुली
सौरव गांगुली ने ट्वीट किया, बीसीसीआई अंडर-19 के दो तेज गेंदबाजों पर नजर रखे..ये हैं मावी और नगरकोटी। न्यूजीलैंड में 145 की स्पीड से गेंदबाजी..यह शानदार है। गांगुली ने इस ट्वीट को विराट कोहली और वीवीएस लक्ष्मण को भी हैसटैग किया है। 

यह मोमेंटम बरकरार रहे : सहवाग
विरेंद्र सहवाग ने स्पीड तुलनात्मक फोटो अपलोड कर ट्वीट कर कहा कि यह हमारे लड़कों की सीरियस गति है। आस्ट्रेलिया को 100 रन से हराकर यह शानदार शुरुआत है। यह भूख लगातार रहे और यह मोमेंटम बरकरार रहे। 

आगे पढ़िए कमलेश की तेज रफ्तार गेंद के बारे में...

दिखाए ऐसे तेवर
दिखाए ऐसे तेवर

गेंद हाथ में लेते ही दिखाए तेवर
कमलेश ने मैच में अपनी पहली गेंद 140 की स्पीड से फेंकी। इसके बाद तो रफ्तार बढ़ती ही गई और इसी ओवर में गेंद की स्पीड 145 किमी प्रति घंटा तक पहुंच गई। आस्ट्रेलियाई कप्तान सांगा को पहले
146 किमी की रफ्तार से गेंद फेंकी और ओवर की अंतिम गेंद कमलेश ने 146.8 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से फेंककर सभी को चौंका दिया। यह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनकी सबसे तेज गेंद रही। 

27 किमी का रहा अंतर
कमलेश की सबसे तेज गेंद 146.8 किमी प्रति घंटा रही तो सबसे कम रफ्तार की गेंद 119.7 किमी प्रति घंटा रही। वहीं उनकी गेंदबाजी औसत 143.6 किमी प्रति घंटा रहा। मैच के दौरान कमलेश ने   करीब 5 गेंद ही 140 से कम स्पीड की फेंकी। कमलेश को दो विकेट 144 और एक विकेट 145 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से फेंकी गेंद पर मिला। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:18-year-old pacer Kamlesh Nagarkoti clocks over 90 mph in ICC U-19 Cricket World Cup