फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News कोरोना वायरसWHO ने कहा COVID-19 अब तक का सबसे खराब वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल

WHO ने कहा COVID-19 अब तक का सबसे खराब वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल

कोरोना वायरस महामारी अब तक 1.6 करोड़ लोगों को संक्रमित कर चुकी है।  WHO के महानिदेशक तेदरोस अदहानोम गेब्रेयस ने कहा कि कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी का सामना पहले कभी भी WHO ने नहीं...

WHO ने कहा COVID-19 अब तक का सबसे खराब वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल
tedros adhanom ghebreyesus
लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीMon, 27 Jul 2020 05:48 PM
ऐप पर पढ़ें

कोरोना वायरस महामारी अब तक 1.6 करोड़ लोगों को संक्रमित कर चुकी है।  WHO के महानिदेशक तेदरोस अदहानोम गेब्रेयस ने कहा कि कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी का सामना पहले कभी भी WHO ने नहीं किया। एक ऑनलाइ समाचार ब्रीफिंग में तेदरोस ने कहा कि मास्क पहनने, भीड़ से बचने जैसे स्वास्थ्य उपायों के ज़रिए ही इसे हराया जा सकते है। कनाडा चीन, जर्मनी और दक्षिण कोरिया के कोविड-19 को नियंत्रित करने के लिए उन्होंने कहा, "जहां इन उपायों का पालन किया जाता है, वहां मामले कम होते हैं और जहां इनका पालन नहीं होता वहां मामले बढ़ते जाते हैं।"
कई देशों में कोरोनावायरस फिर से फैल रहा है, उन राष्ट्रों में भी जिन्हें लगा था कि उन्होंने इस पर काबू कर लिया है।  ये देश अब दुनिया को अलार्म कर रहे हैं।  कोरोनावायरस से 650,000 लोगों की मौतें हो चुकी हैं।  WHO एमरजेंसी प्रोग्राम के प्रमुख माइक रायन का कहना है कि सेकेंड वेव की परिभाषा ढ़ूढ़ने से पहले राष्ट्रों को उनके यहां पैदा हो रहे हॉटस्पॉट्स में फिज़िकल डिस्टेंसिंग जैसे स्वास्थ्य प्रतिबंध लगाने चाहिए।
उन्होंने कहा, “ये साफ है कि वायरस के ख़िलाफ जितना गंभीरता से काम करेंगे वायरस उतना नीचे जाएगा लेकिन जैसे ही आपने ढील दी तो वायरस फिर से बढ़ने लगेगा” हालांकि वो ये स्वीकार करते हैं कि भविष्य में देशों के लिए अपनी सीमाएं बंद रख पाना लगभग असंभव होगा. तेदरोस ने इस बात पर जोर दिया कि हमारी प्राथमिकता जिंदगियों को बचाए रखने की है। जापान और ऑस्ट्रेलिया की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा, '' हमें ट्रांसमिशन को कम करना है, लेकिन साथ ही हमें कमजोर समूहों की पहचान करनी है और उनकी जान बचानी है, अगर संभव हो तो मृत्यु दर को शून्य पर रखना है ''