ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News छत्तीसगढ़नौकरी मिलते ही पति को भूली, बच्ची को भी छोड़ गई महिला; अब हुआ बड़ा खुलासा

नौकरी मिलते ही पति को भूली, बच्ची को भी छोड़ गई महिला; अब हुआ बड़ा खुलासा

छत्तीसगढ़ में एक महिला को सरकारी नौकरी मिलते ही उसने पति और बच्ची को छोड़ दिया। इस मामले में पति ने महिला पर फ्रॉड करने का आरोप लगाया है। पति का कहना है कि नौकरी के लिए पत्नी ने झूठ बोला था।

नौकरी मिलते ही पति को भूली, बच्ची को भी छोड़ गई महिला; अब हुआ बड़ा खुलासा
Mohammad Azamवार्ता,अंबिकापुरThu, 13 Jun 2024 09:18 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति मिलने के बाद महिला अपने पति और बच्चे को छोड़कर चली गई है। पत्नी के जाने के बाद बच्ची को लेकर पति दीपक और उसका पूरा परिवार परेशान है। पति ने आरोप लगाया है कि महिला ने नौकरी के लिए खुद को अविवाहित बताया था, लेकिन नियुक्ति मिलने के बाद जब उसने घर छोड़ दिया तो मामला खुल गया। इस मामले की शिकायत अब जिला कलेक्टर तक पहुंच गई है। इस मामले की जांच अब अंबिकापुर में होगी।

क्या है मामला
गुरुवार को पति ने आरोप लगाया कि उसकी पत्नी बच्ची और उसको छोड़कर चली गई है। आरोप लगाते हुए लखनपुर ब्लाक के ग्राम तराजू निवासी दीपक राजवाड़े ने बताया कि उसकी सास समुद्री बाई अनुविभागीय अधिकारी श्याम नहर उप संभाग क्रमांक-1 में कार्यरत थी। पति का आरोप है कि समुद्री बाई के आकस्मिक निधन के बाद उनकी सबसे छोटी बेटी सुलोचनी राजवाड़े जो उसकी पत्नी है उसे अनुकंपा नियुक्ति मिले। नौकरी पाने के लिए शादीशुदा होते हुए भी सुलोचनी ने खुद को कुंवारी बताया। फिर फर्जी दस्तावेजों के जरिए नौकरी हासिल की। मामले का खुलासा तब हुआ जब अनुकंपा नौकरी मिलने के बाद वह अपने पति और बच्चे को छोड़कर चली गई। 

ऐसे हुआ खुलासा
जब महिला बच्ची और पति को छोड़कर चली गई तो इस मामले का खुलासा हुआ। पति ने फ्रॉड करने का आरोप लगाया है। इस मामले में जब बात नहीं बनी तब पति दीपक राजवाड़े ने आयुक्त सरगुजा, सूरजपुर कलेक्टर और संबंधित अधिकारी से मामले की शिकायत की है। जल संसाधन विभाग के कार्यपालन अभियंता ने कहा कि दीपक राजवाड़े ने इस मामले की शिकायत की थी। दरअसल, भर्ती और जांच मुख्य कार्यालय अंबिकापुर से होगी। सुलोचनी को पत्र लिखा गया था। उनके द्वारा दी गई जानकारी कलेक्टर सहित संबंधित अधिकारी को दे दी गई। अब इसकी जांच की जाएगी।

Advertisement