ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़-महाराष्ट्र बार्डर पर ग्राम पटेल की हत्या, मुखबिरी का शक, गढ़चिरौली में 12 लाख के इनामी नक्सलियों ने किया सरेंडर

छत्तीसगढ़-महाराष्ट्र बार्डर पर ग्राम पटेल की हत्या, मुखबिरी का शक, गढ़चिरौली में 12 लाख के इनामी नक्सलियों ने किया सरेंडर

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले से लगे महाराष्ट्र बॉर्डर पर नक्सलियों ने बुधवार को एक ग्रामीण की हत्या कर दी है। ग्रामीण की पहचान गढ़चिरौली जिले के डोड़डूर गांव के पटेल के रूप में हुई है।

छत्तीसगढ़-महाराष्ट्र बार्डर पर ग्राम पटेल की हत्या, मुखबिरी का शक, गढ़चिरौली में 12 लाख के इनामी नक्सलियों ने किया सरेंडर
Sandeep Diwanलाइव हिन्दुस्तान,राजनांदगांवWed, 25 May 2022 07:42 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले से लगे महाराष्ट्र बॉर्डर पर नक्सलियों ने बुधवार को एक ग्रामीण की हत्या कर दी है। ग्रामीण की पहचान गढ़चिरौली जिले के डोड़डूर गांव के पटेल के रूप में हुई है। ग्रामीण तेंदूपत्ता जमा करने फड़ गया हुआ था। माओवादियों ने पहले युवक का अपहरण किया और मुखबिरी के शक में फिर धारदार हथियार से हत्या कर दी। नक्सलियों ने शव को गांव के पास सड़क पर फेंक दिया। इधर 12 लाख रुपये के इनामी हार्डकोर महिला एवं पुरुष नक्सली ने गढ़चिरौली एसपी के सामने सरेंडर कर दिया। दोनों नक्सली कई बड़ी घटनाओं में शामिल रहे हैं।   

मिली जानकरी के मुताबिक नक्सलियों ने गढ़चिरौली के जामभिया गट्टा थाना क्षेत्र में वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस के मुताबिक नक्सलियों ने ग्रामीण कुल्ले वजा की हत्या की है। वह एटापल्ली तहसील के डोड़डूर गांव का निवासी था। वह गांव में पटेल का काम करता था। बताया जाता है कि कुल्ले तेंदूपत्ता जमा करने फड़ में गया हुआ था। लौटते वक्त ग्रामीण वेशभूषा में आए 5 से 7 नक्सलियों ने युवक का अपहरण कर लिया।

हत्या कर गांव के नजदीक फेंक दिया था शव 
कुल्ले वज्जा को नक्सली अपने साथ जंगल की ओर ले गए और फिर पुलिस की मुखबिरी करने का आरोप लगाकर धारदार हथियार से हमला कर दिया। हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद माओवादियों ने उसे गांव के ही नजदीक सड़क पर फेंक दिया था। शव को देखने के बाद ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। गढ़चिरौली की पुलिस ने शव का पीएम कराने अस्पताल भिजवाया है। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को विवेचना कर रही है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक नक्सलियों का जनाधार कमजोर हो रहा है और दहशत फैलाने इस तरह की करतूत को अंजाम देते हैं। 

12 लाख के इनामी हार्डकोर नक्सलियों का सरेंडर
इधर गढ़चिरौली एसपी के सामने दो हार्डकोर नक्सलियों ने सरेंडर कर दिया। दोनों नक्सलियों पर कुल 12 लाख रुपये का इनाम घोषित था। आत्मसमर्पित नक्सलियों में रामसिंग ऊर्फ सिताराम बक्का आत्राम (63 वर्ष) निवासी अर्कापल्ली, तहसील-अहेरी, जिला गढ़चिरौली और माधुरी ऊर्फ भुरी ऊर्फ सुमन राजू मट्टामी (34 वर्ष) निवासी-गट्टेपल्ली पोमके हालेवारा, तहसील-एटापल्ली जिला-गढ़चिरौली शामिल है। एसपी अंकित गोयल ने बताया कि दोनों नक्सली फोर्स को नुकसान पहुंचाने सहित कई वारदातों में शामिल रहे हैं। जिले के कई थानों के स्थायी वारंटी हैं। 

epaper