ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ में दो नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण, अब तक 180 इनामी माओवादी सहित 801 ने किया सरेंडर

छत्तीसगढ़ में दो नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण, अब तक 180 इनामी माओवादी सहित 801 ने किया सरेंडर

छत्तीसगढ़ में लगातार चलाए जा रहे नक्सलियों के खिलाफ अभियान से माओवादियों में डर साफ दिखने लगा है। इस बीच दंतेवाड़ा में दो नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है। 

छत्तीसगढ़ में दो नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण, अब तक 180 इनामी माओवादी सहित 801 ने किया सरेंडर
Rohit Burmanलाइव हिन्दुस्तान,रायपुरMon, 13 May 2024 04:38 PM
ऐप पर पढ़ें

भाजपा सरकार आने के बाद लगातार नक्सल अभियान चलाया जा रहा है। सुरक्षाबलों के जवान लगातार नक्सली एरिया में माओवादियों का उत्पात कम करने का प्रयास कर रहे हैं। इसी कड़ी में दंतेवाड़ा पुलिस व सीआरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत दो नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है। यह नक्सली बेचपाल पंचायत के डीएकेएमएस के सदस्य हैं।जानकारी के अनुसार जानकारी के अनुसार लोन वारंटू अभियान के तहत दो माओवादियों ने दंतेवाड़ा पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है। दोनों नक्सली बंद के दौरान रोड खोदना, पेड़ काटना व बैनर पोस्टर लगाने की घटनाओं में शामिल थे।

बता दें कि छत्तीसगढ़ के घोर नक्सल इलाके में पुलिस बल और सीआरपीएफ जवानों द्वारा लगातार नक्सलियों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए प्रयास किया जा रहा है। इसी कड़ी में जवान नक्सलियों से लगातार संवाद कर रहे हैं साथ ही गांव-गांव में जाकर इसका प्रचार-प्रसार कर रहे हैं। जिसके परिणाम स्वरुप यह बदलाव माओवादी कैडर में दिखाई भी दे रहा है। लोन वारंटू अभियान के तहत अब तक 180 इनामी माओवादी सहित 801 माओवादियों ने आत्मसमर्पण किया है।


नक्सलियों को मिलते हैं ये लाभ

बतादें कि छत्तीसगढ़ में आत्मसमर्पण करने पर नक्सलियों को 25 हजार रुपये मुआवजा राशि मिलती है। सरेंडर करने पर अन्य लाभ भी मिलेंगे। हार्ड-कोर रैंक होल्डर नक्सली के लिए आत्मसमर्पण की मुआवजा राशि 10 लाख रुपये है।