ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़: सुरक्षाकर्मियों के साथ मुठभेड़ में मारे गए तीन नक्सली, हथियार बरामद; कई मौके से फरार

छत्तीसगढ़: सुरक्षाकर्मियों के साथ मुठभेड़ में मारे गए तीन नक्सली, हथियार बरामद; कई मौके से फरार

मौके से तीन नक्सलियों के शव और कुछ हथियार बरामद किए गए हैं। माओवादियों से संबंधित कुछ सामग्री भी जब्त की गई। उन्होंने कहा कि मारे गए नक्सलियों की अभी तक पहचान नहीं हुई है।

छत्तीसगढ़: सुरक्षाकर्मियों के साथ मुठभेड़ में मारे गए तीन नक्सली, हथियार बरामद; कई मौके से फरार
Devesh Mishraभाषा,कांकेरSun, 25 Feb 2024 10:46 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले में सुरक्षाकर्मियों के साथ मुठभेड़ में रविवार सुबह तीन नक्सली मारे गए। कांकेर के पुलिस अधीक्षक इंदिरा कल्याण एलिसेला ने बताया कि सुरक्षाकर्मियों की एक संयुक्त टीम नक्सल विरोधी अभियान पर थी, तभी कोयलीबेड़ा थाना क्षेत्र के तहत भोमरा-हुरतराई गांवों के बीच एक पहाड़ी पर सुबह करीब आठ बजे मुठभेड़ हुई।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों को भोमरा, हुरतराई और मिच्छेबेड़ा गांवों में माओवादियों की कंपनी नंबर 5 के कैडर की मौजूदगी की जानकारी मिली थी। जिला रिजर्व गार्ड (डीआरजी) और सीमा सुरक्षा बल की 30वीं बटालियन का संयुक्त दल शनिवार रात को इलाके में भेजा गया था। इस दौरान मुठभेड़ शुरू हो गई और कुछ देर गोलीबारी के बाद नक्सली मौके से भाग गए।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि मौके से तीन नक्सलियों के शव और कुछ हथियार बरामद किए गए हैं। माओवादियों से संबंधित कुछ सामग्री भी जब्त की गई। उन्होंने कहा कि मारे गए नक्सलियों की अभी तक पहचान नहीं हुई है।

यह भी जानिए:
छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में नक्सलियों द्वारा लगाए गए एक 'प्रेशर इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस' (आईईडी) में रविवार को विस्फोट होने से छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल (सीएएफ) के एक हेड कांस्टेबल की मौत हो गई। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि घटना नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में मिरतुर थाना क्षेत्र के बेचापाल पदमपारा गांव के पास अपराह्न करीब 3.30 बजे घटी। सीएएफ का एक दल इलाके में नियंत्रण हासिल करने के अभियान पर निकला हुआ था। उन्होंने कहा कि बेचापाल पुलिस शिविर से कुतुलपारा गांव की तरफ यह अभियान शुरू किया गया था।

अधिकारी ने बताया कि जब यह दल शिविर के पास पहुंचा, तो सीएएफ की 19वीं बटालियन के हेड कांस्टेबल राम आशीष यादव का पैर गलती से प्रेशर आईईडी पर पड़ गया और विस्फोट होने से उनकी मृत्यु हो गई। अधिकारी के अनुसार, मारे गए जवान के शव को मिरतुर भेज दिया गया और इलाके में तलाशी अभियान जारी है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें