ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News छत्तीसगढ़राशन खरीदी को लेकर हुआ विवाद पहुंचा थाने, रात से आरोपियों की‌ गिरफ्तारी के लिए बैठे पीड़ित 

राशन खरीदी को लेकर हुआ विवाद पहुंचा थाने, रात से आरोपियों की‌ गिरफ्तारी के लिए बैठे पीड़ित 

छत्तीसगढ़ के कोरबा में राशन खरीदने को लेकर विवाद हो गया। विविद इतना बढ़ा कि मामला मारपीट के बाद थाने तक पहुंच गया। इस बीच एक पक्ष दूसरे की गिरफ्तारी की मांग पर रात‌ से थाने पर बैठा है।‌

राशन खरीदी को लेकर हुआ विवाद पहुंचा थाने, रात से आरोपियों की‌ गिरफ्तारी के लिए बैठे पीड़ित 
chhattisgarh news
Rohit Burmanलाइव हिन्दुस्तान,रायपुरTue, 25 Jun 2024 02:05 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में उस वक्त बवाल मच गया, जब दो पक्ष में जमकर मारपीट हुई। यह मारपीट की दुकान में राशन खरीदी नहीं करने पर हुई है। बकाया राशि नहीं चुकाने पर दुकान मालिक समेत उसके अन्य साथी ने युवक के घर में घुसकर मौजूद महिला समेत पड़ोसियों पर जमकर मारपीट की साथ ही तोड़फोड़ भी किया है। इस दौरान एक महिला और पुरुष को गंभीर चोटें आई है। वहीं इस मारपीट की घटना को अंजाम देकर वे सभी मौके से फरार हो गए। वहीं एक पक्ष आरोपियों की गिरफ्तारी होने तक थाना परिसर में बैठने का फैसला लिया है। वे सभी रात से ही थाना के बाहर बैठे हुए हैं और गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। 

पूरा मामला सिविल लाइन थाना क्षेत्र के खरमोरा अटल आवास का है। रात के समय दुकान मालिक के साथ उसके अन्य साथी आए‌ और इस दौरान घर में घुसकर जबरन मारपीट करने लगे। वहां मौजूद महिलाओं पर की मारपीट की गई। इस दौरान घर में भी की तोड़फोड़ भी की गई है। इससे एक महिला और पुरुष को गंभीर चोटें आई है। मामले में एक पक्ष कार्रवाई को लेकर सिविल लाइन थाना परिसर में रात भर परिवार सहित बैठा हुआ है। पीड़ित‌ पक्ष ने आरोपियों की गिरफ्तारी होने तक बैठे रहने का फैसला लिया है। बताया जा रहा है कि इस मामले में सिविल लाइन थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर आगे की जांच कार्रवाई शुरू कर दी है। 

वहीं ममाले में पीड़ित परिवार का आरोप है कि घटना को लेकर पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। अब तक किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस अब तक घटना स्थल नहीं पहुंची है। पीड़ित परिवार घटना के बाद से रात भर सिविल लाइन थाना परिसर में बैठे हुए हैं। उनका कहना है कि आरोपी के ऊपर जब तक कार्रवाई नहीं होती है, तब तक वे धरना पर बैठे रहेंगे। उन्होंने बताया कि घर में रखा सारा सामान बिखराया‌ गया और तोड़फोड़ भी की गई है। यहां काफी नुकसान भी हुआ है।

मामले में घायल सत्यम भारद्वाज ने बताया की रात लगभग 9 बजे घर पर सो रहा था। अचानक कुछ लोग घर से अंदर घुसे और मारपीट शुरू कर दिए। उन्होंने विवाद होने का कारण बताया कि वह राजा ठाकुर की राशन दुकान है। उसके दुकान से पहले राशन लेते थे। लेकिन अब लेना बंद कर दिए थे। इस पर दुकान मालिक बकाया राशि को लेकर बार बार विवाद करता था। जिसके‌ बाद राजा ठाकुर और उसके अन्य साथी घर पर घुसकर मारपीट की। साथ ही घर में रखे सामान को तोड़फोड़ किया। उसने बताया कि घर में मौजूद महिलाओं और पड़ोसियों के साथ भी उन्होंने मारपीट की है। इससे काफी चोटें आई है।