ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, 1 लाख के इनामी समेत 9 नक्सली गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, 1 लाख के इनामी समेत 9 नक्सली गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। शुक्रवार को एक लाख रुपये के इनामी नक्सली समेत नौ नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया है। इन सभी को सुरक्षाबलों ने अलग-अलग जगहों से गिरफ्तार किया है।

छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, 1 लाख के इनामी समेत 9 नक्सली गिरफ्तार
Mohammad Azamवार्ता,बीजापुरFri, 21 Jun 2024 05:09 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। शुक्रवार को एक लाख रुपये के इनामी नक्सली समेत नौ नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया है। सुरक्षा बलों की बासागुड़ा थाना, उसूर और तर्रेम में अलग-अलग जगह की कार्रवाई में यह सफलता हाथ लगी। ये सभी नक्सली फायरिंग, आईईडी ब्लास्ट, आगजनी, जैसे घटनाओं में शामिल थे। इस बारे में जानकारी देते हुए एक अधिकारी ने बताया कि इनमें से आठ को उसूर थाना क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों से गिरफ्तार किया गया जबकि एक को नैमेड़ थाना क्षेत्र से बंदी बनाया गया।

पुलिस की ओर से जारी एक बयान में बताया गया कि गिरफ्तार किए गए सभी कैडर प्रतिबंधित माओवादी आंदोलन के सक्रिय सदस्य थे और कथित तौर पर सुरक्षाकर्मियों को निशाना बनाने के लिए आईईडी लगाने, सड़कों को नुकसान पहुंचाने और पोस्टर और बैनर लगाने की घटनाओं में शामिल थे। ये आठ लोग पिछले महीने कई स्थानों पर उसूर-अवापल्ली सड़क को नुकसान पहुंचाने और बंद के समर्थन में माओवादी बैनर तथा पर्चे लगाने में कथित रूप से शामिल थे। बयान में कहा गया है कि अवलम आयतु (49) को जिला रिजर्व गार्ड (डीआरजी) ने नैमेड़ इलाके से गिरफ्तार किया है तथा वह इलाके में पुलिसकर्मियों पर हमले की घटना में भी वांछित था। इन सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

बीते कुछ महीनों से छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित इलाकों में सुरक्षाबलों का लगातार ऐक्शन जारी है। इस दौरान कई नक्सलियों को एनकाउंटर में मार गिराया गया है। इसके अलावा कई ने आत्मसमर्पण किया तो कुछ को गिरफ्तार भी किया गया है। इस दौरान नक्सलियों के पास कई हथियार भी बरामद किये जा चुके हैं। छत्तीसगढ़ में नई सरकार बनने के बाद नक्सलियों पर कार्रवाई में तेजी आई है। हालांकि, इसको लेकर कई तरह के सवाल भी खड़े हो रहे हैं। बीते कुछ दिनों में ऐसे कई मामले सामने आये हैं जिसमें नक्सलियों को मार गिराया गया है।