फोन टेपिंग पर छत्तीसगढ़ की सियासत गर्म, ‌CM भूपेश बघेल पर भाजपा हमलावर तो कांग्रेस के निशाने पर केंद्र सरकार

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा फोन टेपिंग कराने के बयान ने प्रदेश का राजनीतिक पारा चढ़ा दिया है। भाजपा नेताओं के निशाने पर सीएम भूपेश हैं तो मुख्यमंत्री के निशाने पर केंद्र की सरकार।

offline
Sandeep Diwan लाइव हिन्दुस्तान , रायपुर
Thu, 23 Jun 2022 3:16 PM

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा फोन टेपिंग कराने के बयान ने प्रदेश का राजनीतिक पारा चढ़ा दिया है। भाजपा नेताओं के निशाने पर सीएम भूपेश हैं तो मुख्यमंत्री के निशाने पर केंद्र की सरकार। भाजपा-कांग्रेस लगातार एक दूसरे पर हमलावर है। सीएम भूपेश बघेल ने 2 दिन पहले दिल्ली और बुधवार की रात रायपुर एयरपोर्ट पर मीडिया से बातचीत में आरोप लगाया था कि उनकी सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की जा रही है। केंद्र सरकार उनके यहां फोन टेपिंग करा रही है। सीएम के इस बयान पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने भी सियासी पलटवार किया था।

विष्णदेव साय ने पूछा था कि भूपेश सरकार के मंत्री और विधायक ऐसा कौन सा काम कर रहे हैं, जिससे उनका फोन टेप हो रहा है। मुख्यमंत्री का हाल बेहाल क्यों हो गया है? केंद्र की भाजपा सरकार हमेशा संवैधानिक रूप से कार्य करती है, लेकिन छत्तीसगढ़ कांग्रेस को किस बात का भय सता रहा है? उन्होंने कहा कि क्या भूपेश बघेल को अपने घर के भीतर (कैबिनेट) से खतरा है? यदि है तो वे ऐसे साथियों पर एक्शन क्यों नहीं ले रहे हैं, जिनकी बातें उजागर होने पर अपनी सरकार के अस्थिर होने का अंदेशा है? साय ने सीएम भूपेश से पूछा कि उनके प्रशासनिक सहयोगियों पर पहरेदारी बढ़ाने की वजह क्या है? प्रदेश के मंत्री द्वारा एक कलेक्टर को भ्रष्ट बताने पर अफसर या मंत्री दोनों में से दोषी को क्यों नहीं हटाया गया?

पेगासस के जरिये किसने कराई जासूसी: भूपेश
फोन टेपिंग के सवाल पर रायपुर एयरपोर्ट पर सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय बहुत सज्जन आदमी है। उनसे तो यह सवाल बना नहीं। फिर भी पूछ लिए हैं। मैं उनसे पूछना चाहता हूं। पेगासस के जरिए किसने जासूसी कराई। फोन टेपिंग क्या उनके नेताओं की नहीं हुई। विपक्षी, नौकरशाहों, जजों और उनके नेताओं के फोन टेपिंग हुए। इस मामले में विष्णुदेव साय और डॉ. रमन सिंह क्या बोलेंगे... चुप रहेंगे। भूपेश ने कहा कि भाजपा की फितरत ही फोन टेपिंग की है। इस आधार पर मैं बोल रहा हूं कि फोन टेपिंग कर रहे हैं। अभी जितने छापे पड़े हैं। उन्हीं से पूछ लो..। सेंट्रल एजेंसी वाले फोन टेपिंग कर रहे हैं कि नहीं...। सेंट्रल में भाजपा की सरकार है। आपकी सरकार, केंद्र की एजेंसी है, उनसे पूछों। हमसे क्या पूछना...।

ED की पूछताछ से तकलीफ हो रही: डॉ. रमन
सीएम भूपेश बघेल द्वारा छत्तीसगढ़ सरकार को अस्थिर करने केंद्र सरकार द्वारा फोन टेपिंग कराने के आरोप पर दो दिन पहले पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा था कि छत्तीसगढ़ सरकार के नेताओं का फोन टेपिंग कराने का कोई कारण ही नहीं है। यह शंका में इस प्रकार का बयान दे रहे हैं। मूल विषय यह है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) राहुल गांधी से पूछताछ कर रही है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को समन जारी किया गया है तो इनको तकलीफ हो रही है। नेशनल हेराल्ड की 2000 करोड़ की संपत्ति को बचाने का यह पूरा प्रयास है।

ऐप पर पढ़ें

Chhattisgarh News Live Hindustan Bhupesh Baghel Raman Singh