ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ में शपथ ग्रहण से पहले नक्सलियों दर्ज कराई अपनी मौजूदगी, सुकमा में किया आईईडी ब्लास्ट, 2 जवान घायल

छत्तीसगढ़ में शपथ ग्रहण से पहले नक्सलियों दर्ज कराई अपनी मौजूदगी, सुकमा में किया आईईडी ब्लास्ट, 2 जवान घायल

Chhattisgarh News छत्तीसगढ़ में एक बार फिर नक्सलियों ने उत्पाद मचाना शुरू कर दिया है। सुकमा में नक्सलियों ने अपनी मौजूदगी दर्ज कराते हुए IED ब्लास्ट किया है। इस ब्लास में दो जवान घायल हो गए है।

छत्तीसगढ़ में शपथ ग्रहण से पहले नक्सलियों दर्ज कराई अपनी मौजूदगी, सुकमा में किया आईईडी ब्लास्ट, 2 जवान घायल
Rohit Burmanलाइव हिन्दुस्तान,रायपुरMon, 11 Dec 2023 09:28 PM
ऐप पर पढ़ें

सुकमा. छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री और मंत्रिमंडल के सदस्यों की शपथ से पहले नक्सलियों ने एक बार फिर अपनी मौजूदगी दर्ज कराई है नक्सलियों ने सुकमा में आईडी ब्लास्ट किया है। जिसमें दो जवान घायल हो गए हैं। बीते कुछ महीने से नक्सली लगातार किसी ना किसी नक्सली घटना को अंजाम दे रहे हैं। जिसमें जवान गंभीर रूप से घायल हो रहें हैं।

सर्चिंग पर निकले थे सुरक्षा बल के जवान 

सुकमा पुलिस अधीक्षक किरण चव्हाण के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार किस्टाराम थाना क्षेत्र के डब्बामर्का पुलिस कैंप से जिलाबल, सीआरपीएफ 217 वाहिनी और कोबरा 208 वाहिनी की संयुक्त टीम को सड़क निर्माण में सुरक्षा देने के लिए रवाना किया गया था।  सुरक्षाबल के जवान सलातोंग इलाके में सर्चिंग अभियान करते हुए आगे बढ़ रहे थे। इसी दौरान सुबह करीब 10 बजकर 15 मिनट पर सालातोंग के पास नक्सलियों के द्वारा प्लांट किए गए प्रेशर आईईडी पर जवानों का पैर लग गया और उसी वक्त आईईडी ब्लास्ट हो गया। 

घायल जवानों का प्राथमिक उपचार कर एयरलिफ्ट करने की तैयारी

आईईडी के ब्लास्ट होने से दो जवान बम की चपेट में आ गए। जिसके बाद साथी जवानों ने घायल जवानों को नजदीकी पुलिस कैंप में ले जाया गया।  पुलिस कैंप में घायल जवानों का प्राथमिक उपचार किया गया। घायल जवानों को बेहतर उपचार के लिए एयरलिफ्ट करने की तैयारी भी की जा रही। 

अमित शाह ने किया है पांच साल में नक्सलियों का सफाया करने का वादा

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के वक्त भी नक्सलियों ने चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश की थी। नक्सलियों ने चुनाव से पहले और चुनाव के बीच भी बड़ी नक्सली घटनाओं को अंजाम दिया था। कांकेर में हुए आईईडी ब्लास्ट में जवानों के शहीद होने के साथ ही कई जवान घायल भी हो गए थे। कुछ स्थानीय लोग भी इसकी चपेट में आ गए थे। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के छत्तीसगढ़ दौरे के समय लगातार नक्सली घटनाएं हो रही थी। इसी बीच चुनाव प्रचार के दौरान केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने 5 साल में छत्तीसगढ़ से नक्सलियों का सफाया करने का वादा किया था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें