ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ छत्तीसगढ़लाल आतंक की बड़ी साजिश नाकाम, फोर्स को नुकसान पहुंचाने नक्सलियों ने प्लांट किया था 10-10 किलो का बम

लाल आतंक की बड़ी साजिश नाकाम, फोर्स को नुकसान पहुंचाने नक्सलियों ने प्लांट किया था 10-10 किलो का बम

छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में पुलिस व ITBP के जवानों ने माओवादियों के नापाक मंसूबों को नाकाम कर दिया। नक्सलियों ने फोर्स को नुकसान पहुंचाने 10-10 किलो के 2 शक्तिशाली बम प्लांट कर रखा था।

लाल आतंक की बड़ी साजिश नाकाम, फोर्स को नुकसान पहुंचाने नक्सलियों ने प्लांट किया था 10-10 किलो का बम
Sandeep Diwanलाइव हिन्दुस्तान,नारायणपुरFri, 05 Aug 2022 11:29 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में पुलिस व अर्धसैनिक बल के जवानों ने माओवादियों के नापाक मंसूबों को नाकाम कर दिया। नक्सलियों ने फोर्स को नुकसान पहुंचाने 10-10 किलो के 2 शक्तिशाली बम सड़क किनारे प्लांट कर रखा था। रोड डिमाइनिंग पर निकले जवानों ने पाइप बम को देखा। मेटल डिटेक्ट से सर्च करने पर नीचे तार और आईईडी की जानकारी हुई। बम निरोधक दस्ते को बुलाया गया। टीम ने बम को डिफ्यूज किया। बम काफी शक्तिशाली था। जवान इसकी चपेट में आते तो बड़ा नुकसान हो सकता था। 

नारायणपुर के एसपी सदानंद कुमार ने बताया कि शुक्रवार की सुबह जिला पुलिस बल और आईटीबीपी की संयुक्त पार्टी आरओपी और रोड डिमाइनिंग ड्यूटी के लिए थाना कोहकामेटा से ग्राम कुंदला की ओर रवाना किया गया था। जवान कोहकामेटा थाना से 1.5 किमी उत्तर-पश्चिम दिशा में सड़क किनारे टेकरी के पास पहुंचे थे, तभी उन्हें सड़क किनारे मोड़ पर संदिग्ध अवस्था में कपड़े के नीचे कुछ सामान रखा हुआ दिखाई दिया। जवानों ने मेटल डिटेक्ट से सर्च किया तब नीचे 2 नग जिंदा क्लेमोर पाइप बम बरामद किया गया। दोनों बम 10-10 किलो का था। 

बम को BDS की टीम ने डिफ्यूज किया 
एसपी सदानंद कुमार ने बताया कि जवानों ने पाइप बम मिलने की सूचना बीडीएस टीम को दी। बम निरोधक दस्ते ने आईईडी को मौके पर ही डिफ्यूज कर दिया। जवानों ने 10 मीटर लूज वायर और 1 नग स्वीच भी बरामद किया। फोर्स को नुकसान पहुंचाने माओवादियों ने बम को प्लांट किया था, लेकिन जवानों ने सतर्कता से नक्सलियों के नापाक मंसूबों को नाकाम कर दिया। एसपी ने बताया कि फोर्स के दबाव में नक्सली बैकफुट पर है। माओवादी के खिलाफ फोर्स द्वारा मॉनसून में भी एंटी नक्सल ऑपरेशन चलाया जा रहा है। शहीदी सप्ताह के दौरान भी जवानों ने जंगल के अंदर तक अभियान चलाया है।

epaper