ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News छत्तीसगढ़'छत्तीसगढ़ पांच साल से ग्रहण के अधीन', जेपी नड्डा का कांग्रेस पर अटैक

'छत्तीसगढ़ पांच साल से ग्रहण के अधीन', जेपी नड्डा का कांग्रेस पर अटैक

भ्रष्टाचार को लेकर भूपेश बघेल सरकार पर निशाना साधते हुए, जेपी नड्डा ने कहा, 'शनिवार को चंद्रग्रहण था। छत्तीसगढ़ पांच साल से ग्रहण के अधीन है और इसे हटाने का अवसर आ गया है।'

'छत्तीसगढ़ पांच साल से ग्रहण के अधीन', जेपी नड्डा का कांग्रेस पर अटैक
Devesh Mishraभाषा,डोंगरगढ़Sun, 29 Oct 2023 06:53 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ में सियासी चहलकदमियां तेज हो गई हैं। राज्य में 7 और 17 नवंबर को दो चरणों में विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग होनी है। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रविवार को छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य पांच साल से 'ग्रहण' के अधीन है और अब इसे हटाने का समय आ गया है। नड्डा ने राज्य के डोंगरगढ़ विधानसभा क्षेत्र में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए आरोप लगाया कि कांग्रेस जनता के कल्याण की नहीं बल्कि हमेशा अपने या अपने परिवार के कल्याण के बारे में सोचती है। उन्होंने कहा कि लोगों को यह तय करना होगा कि वे ऐसी सरकार चुनना चाहते हैं जो खुद की सेवा करती हो या वह जो लोगों की सेवा करती हो।

डोंगरगढ़ उन 20 विधानसभा क्षेत्रों में से एक है, जहां चुनाव के पहले चरण में सात नवंबर को मतदान होगा। अन्य 70 सीटों पर दूसरे चरण में 17 नवंबर को मतदान होगा। जेपी नड्डा ने कहा कि यह उनके लिए सौभाग्य की बात है कि उन्होंने छत्तीसगढ़ में अपनी पहली चुनावी रैली का शंखनाद देवी मां बम्लेश्वरी की पावन धरती से किया।

डोंगरगढ़, पहाड़ी में स्थित मां बम्लेश्वरी देवी मंदिर के लिए प्रसिद्ध है। यह छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र का सीमावर्ती इलाका है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा, 'छत्तीसगढ़ में कांग्रेस द्वारा विकास के लिए रखी गई एक भी ईंट या पत्थर नहीं है। लेकिन मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं कि भाजपा राज्य में विकास की हर एक ईंट पर अपनी भूमिका का दावा कर सकती है।'

जेपी नड्डा ने कहा, 'कांग्रेस ने कभी भी लोगों के बारे में नहीं सोचा, उसने केवल अपने और अपने परिवार के बारे में सोचा.. कांग्रेस (तत्कालीन मध्य प्रदेश) में मुख्यमंत्रियों की एक लंबी श्रृंखला थी, अर्जुन सिंह, मोतीलाल वोरा और श्यामाचरण शुक्ला। वहीं प्रधानमंत्रियों (केंद्र में पिछली कांग्रेस सरकार में) की भी एक लंबी श्रृंखला थी। लेकिन छत्तीसगढ़ को इसका नाम भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी ने दिया था।'

भ्रष्टाचार को लेकर भूपेश बघेल सरकार पर निशाना साधते हुए, जेपी नड्डा ने कहा, 'शनिवार को चंद्रग्रहण था। छत्तीसगढ़ पांच साल से ग्रहण के अधीन है और इसे हटाने का अवसर आ गया है।' उन्होंने लोगों से डोंगरगढ़ सीट से भाजपा के उम्मीदवार विनोद खांडेकर का समर्थन करने और अगले महीने के चुनाव में भाजपा को सत्ता में लाने का आग्रह किया।  

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें