ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News छत्तीसगढ़बैगा आदिवासियों की सरकार नहीं कर पा रही रक्षा, कांग्रेस ने उठाए राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र बैगा जनजाति सुरक्षा पर सवाल

बैगा आदिवासियों की सरकार नहीं कर पा रही रक्षा, कांग्रेस ने उठाए राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र बैगा जनजाति सुरक्षा पर सवाल

छत्तीसगढ़ में बैगा आदिवासियों की रक्षा को लकेर कांग्रेस पार्टी ने प्रदेश सरकार पर सवाल खड़े किया है। कांग्रेस ने बैगा जनजाति के तीन सदस्यों की मृत्यु के मामले को लेकर न्यायिक जांच की मांग की है।

बैगा आदिवासियों की सरकार नहीं कर पा रही रक्षा, कांग्रेस ने उठाए राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र बैगा जनजाति सुरक्षा पर सवाल
Rohit Burmanलाइव हिन्दुस्तान,रायपुरFri, 23 Feb 2024 12:22 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ में बैगा जनजाति की रक्षा को लकेर सरकार पर सवाल खड़ा किया जा रहा है। प्रदेश कांग्रस के अध्यक्ष दीपक बैज ने बैगा जनजाति के लोगों की रक्षा को लेकर सरकार को घेरते हुए सवाल खड़ा किया है। सांसद दीपक बैज ने दीपक बैज ने बैगा जनजाति के तीन सदस्यों की मृत्यु के मामले की न्यायिक जांच की फिर मांग करते हुए आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की बात कही है। 

दीपक बैज ने राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र बैगा जनजाति के परिवार के लोगों की हत्या पर सरकार को घेरते हुए कहा कि सरकार आज बैगा आदिवासियों की रक्षा नहीं कर पा रही है। इस हत्या को लेकर सरकार सिर्फ लीपा पोती करने का काम कर रही है। बैज ने कहा कि इस मामले में आखिर इतनी देरी क्यो हो रही है, जो भी अधिकारी इस विषय को लेकर लापरवाही कर रहे हैं उनपर भी कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए ।  

इस मामले को लेकर बैज ने आगे कहा है कि उन्होंने इसे गंभीरता को देखते हुए 30 जनवरी को मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर न्यायिक जांच की मांग थी। लेकिन अब जब यह साफ हो गया कि हत्या हुई थी तो इस हत्या के मामले को दबाने और इसके षड्यंत्रों को उजागर करने के लिए न्यायिक जांच कराया जाना जरूरी है। सांसद दीपक बैज ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र बैगा जनजाति के तीन सदस्यों की रक्षा करने में सरकार फैल हो गई है। साथ ही कहा कि छत्तीसगढ़ में आदिवासी सीएम के रहते हुए संरक्षित जनजाति के परिवार की हत्या कर दी गयी थी। पंडरिया विधानसभा के कुकदूर थाना क्षेत्र के नाग डबरा में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की हत्या हुई थी, जिसे हादसा बताकर लीपापोती किया जा रहा था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें