ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ छत्तीसगढ़झूंड से बिछड़कर रिहायशी इलाके में पहुंचा हाथी, झोपड़ी में सो रहे ग्रामीण को कुचलकर मार डाला, गांव में दहशत 

झूंड से बिछड़कर रिहायशी इलाके में पहुंचा हाथी, झोपड़ी में सो रहे ग्रामीण को कुचलकर मार डाला, गांव में दहशत 

छत्तीसगढ़ में हाथियों का आतंक लगातार जारी है। गरियाबंद जिले के वन परिक्षेत्र मैनपुर में शुक्रवार को जंगली हाथी ने झोंपड़ी में सो रहे ग्रामीण को सूंड से खींचकर निकाला और पटककर पैरों से कुचल दिया।

झूंड से बिछड़कर रिहायशी इलाके में पहुंचा हाथी, झोपड़ी में सो रहे ग्रामीण को कुचलकर मार डाला, गांव में दहशत 
Sandeep Diwanलाइव हिन्दुस्तान,रायपुरFri, 09 Sep 2022 04:14 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ में हाथियों का आतंक लगातार जारी है। गरियाबंद जिले के वन परिक्षेत्र मैनपुर में शुक्रवार तड़के 4 बजे एक जंगली हाथी ने झोंपड़ी में सो रहे ग्रामीण को सूंड से खींचकर निकाला और पटककर पैरों से कुचल दिचा। ग्रामीण की मौके पर मौत हो गई। सूचना पर वन और पुलिस का अमला गांव पहुंचा। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पीएम के लिए भेज दिया है। वन विभाग ने हाथी की मौजूदगी वाले इलाके में ग्रामीणों को नहीं जाने मुनादी कराई है।

मिली जानकारी के मुताबिक तहसील मुख्यालय मैनपुर से लगभग 10 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत जिडार के आश्रित ग्राम सिहार में पहाड़ी किनारे झोपड़ी बनाकर ग्रामीण गंगाराम (56 वर्ष) निवास करता था। शुक्रवार सुबह लगभग 4 बजे के आसपास एक हाथी झूंड से बिछड़कर गांव पहुंच गया। हाथी ने ग्रामीण गंगाराम को उसके झोपड़ी से खींचकर बाहर निकाला और सूंड से पटककर पैरों से कुचल दिया। हाथी की दस्तक से गांव में दहशत है।

हाथी की निगरानी करने वन अमला तैनात
वन विभाग के एसडीओ राजेंद्र प्रसाद सोरी ने बताया कि एक हाथी दल से बिछड़कर घूम रहा है। उनके द्वारा एक ग्रामीण गंगाराम सोरी जाति कमार को पटककर मार दिया है। वन विभाग द्वारा पंचनामा की कार्यवाही कर पीड़ित परिवार को मुआवजा दिया जाएगा। सोरी ने बताया कि हाथी की मौजूदगी वाले इलाके में ग्रामीणों को नहीं जाने मुनादी कराई गई है। हाथी की निगरानी के लिए वन अमला भी तैनात कर दिया गया है।