ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ में मां-बम्लेश्वरी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष के घर ED का छापा, कस्टम मिलिंग मामले में चल रही जांच

छत्तीसगढ़ में मां-बम्लेश्वरी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष के घर ED का छापा, कस्टम मिलिंग मामले में चल रही जांच

छत्तीसगढ़ में डोंगरगढ़ के मां बमलेश्वरी ट्रस्ट और राइस मिल एसोसिएशन के अध्यक्ष मनोज अग्रवाल के घर ईडी ने छापा मारा है।‌ जहां टीम दस्तावेज खंगालने का काम कर रही है। 

छत्तीसगढ़ में मां-बम्लेश्वरी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष के घर ED का छापा, कस्टम मिलिंग मामले में चल रही जांच
Rohit Burmanलाइव हिन्दुस्तान,रायपुरSat, 08 Jun 2024 01:36 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव परिणामों के बाद अब‌‌ फिर से प्रदेश में ईडी की‌ कार्रवाई का सिलसिला शुरू हो गया है। इस बीच ईडी‌ की टीम ने शनिवार को 2 शहरों में छापेमारी की है। जहां ईडी की टीम ने राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ शहर में राइस मिलर्स एसोसिएशन के अध्‍यक्ष मनोज अग्रवाल के यहां छापा मारा है।   बतादें कि मनोज अग्रवाल मां बमलेश्वरी ट्रस्ट के अध्यक्ष भी हैं। जिनके यहां ईडी‌ क‌ी रेड‌ जारी है। 

सुबह 5 बजे से रेड‌ जारी

छत्तीसगढ़ में एडी की टीम ने कस्‍टम मिलिंग मामले की जांच को लेकर छापा मारा गया है। आज सुबह 5 बजे से राइस मिलर संगठन के अध्यक्ष मनोज अग्रवाल के घर कार्रवाई चल रही है। बताया जा रहा है कि, मनोज अग्रवाल के घर 2 अलग-अलग गाड़ियों में टीम पहुंची है और घर में दस्तावेज खंगालने का‌म कर रही‌ है। अभी ये पता नहीं चल पाया है कि प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने किस मामले में ये कार्रवाई की है। हालांकि बताया जा रहा है कि मामला राशन घोटाले से जुड़ा हो सकता है। सूत्रों की मानें तो आज सुबह तड़के 5 बजे ईडी की टीमें अग्रवाल के डोंगरगढ़ और रायपुर (खम्‍हारडीह) स्थित ठिकानों पर पहुंची है। 

पहले भी पड़ चुका छापा

छत्तीसगढ़ में राशन घोटाले मामले को लेकर ईडी की टीम ने पहले भी छापा मारा है।  ईडी ने पिछले हप्ते ही राजधानी रायपुर, दुर्ग और खरोरा में दबिश दी थी। जहां राजधानी रायपुर में 2, दुर्ग में 2 ठिकानों और खरोरा में एक जगह समेत कुल 5 ठिकानों पर छापेमारी की गई थी। सूत्रों की मानें तो ईडी ने यह छापा राइस मिल एसोसिएशन के पूर्व महासचिव प्रमोद अग्रवाल के यहां मारा था। राइस मिल एसोसिएशन के रायपुर स्थित कार्यालय और अध्‍यक्ष कैलाश रुंगटा के यहां भी पहुंची थी। ये छापे इस मामले में पकड़े गए खाद्य विभाग के विशेष सचिव मनोज सोनी और राइस मिल एसोसिएशन के पूर्व कोषाध्‍यक्ष रोशन चंद्राकर से पूछताछ के आधार पड़े हैं।