ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News छत्तीसगढ़सीएम हाउस में सतनामी समाज से बातचीत; बलौदा बाजार मामले में आगे क्या करेगी साय सरकार?

सीएम हाउस में सतनामी समाज से बातचीत; बलौदा बाजार मामले में आगे क्या करेगी साय सरकार?

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय से प्रदेश के सतनामी समाज के प्रमुख लोगो ने चर्चा‌ की‌ है। घंटो तक चली चर्चा के बाद शांति स्थापित करने के लिए मिलकर काम करने के संकल्प को दोहराया गया है।‌

सीएम हाउस में सतनामी समाज से बातचीत; बलौदा बाजार मामले में आगे क्या करेगी साय सरकार?
Rohit Burmanलाइव हिन्दुस्तान,रायपुरTue, 11 Jun 2024 11:15 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ के बलौदा बाजार में सतनामी समाज के प्रदर्शन के दौरान कलेक्ट्रेट परिसर में उपद्रवियों के द्वारा आगजनी की घटना को अंजाम देने के बाद अब मामला गर्म हो गया है। इस मामले में पुलिस ने 7 एफआईआर की है। जिसमें करीब 200 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं मंगलवार की शाम मुख्यमंत्री निवास में सतनामी समाज के प्रमुख लोगों ने सीएम विष्णु देव साय से चर्चा की है। प्रदेशभर के सतनामी समाज के प्रतिनिधिमंडल से मुख्यमंत्री विष्णु देव साय की मुलाकात हुई, इस मुलाकात में बलोदा बाजार जिले में हुई घटना के संबंध में शांति और सौहार्द्रपूर्ण वातावरण बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण चर्चा की गई।‌ इसके साथ ही एक बार फिर शांति स्थापित करने के लिए सभी ने एक साथ मिलकर काम करने का संकल्प लिया है। 

मुख्यमंत्री निवास में सतनामी समाज के प्रमुख लोगों से चर्चा करते हुए सीएम विष्णु देव साय ने कहा है कि बाबा गुरु घासीदास का संदेश समाज में शांति और सद्भाव का रहा है।‌सीएम साय‌ ने कहा कि आप सभी की जिम्मेदारी है कि समाज भ्रमित ना हो और प्रदेश में शांति स्थापित करने की दिशा में अब हम सबको एक साथ मिलकर आगे बढ़ाने की जरूरत है। 

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि सतनामी समाज परम पूज्य गुरु बाबा घासीदास के अनुयाई हैं। उन्होंने कहा कि बाबा ने दुनिया को सत्य और अहिंसा का रास्ता दिखाया है। इसके अलावा उन्होंने बीते दिनों जैतखाम का‌ अपमान करने वाले सामाजिक तत्वों और इस पूरे मामले को लेकर संज्ञान लेते हुए शासन ने नायक जांच की घोषणा की है। सीएम साय ने कहा कि छत्तीसगढ़ शांति का टापू है और प्रदेश में बलौदा बाजार जैसी घटना का होना अत्यंत निंदनीय है।

समाज‌ के लोगों ने कहा‌, उपद्रवी सतनाम का हिस्सा नहीं 

इसके साथ ही मुख्यमंत्री से मुलाकात में सतनामी समाज के प्रमुख लोगों ने कहा कि बलोदा बाजार की इस घटना से समाज के सभी लोग आहत हैं। समाज के लोगों ने कहा कि प्रदर्शन के दौरान जिन लोगों ने हिंसा और तोड़फोड़ की कार्रवाई की है, वह सभी सामाजिक तत्व थे और हमारे प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा नहीं थे। समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री के साथ चर्चा करते हुए कहा कि हम सब शांति और सौहार्द्र स्थापित करने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं।