ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News छत्तीसगढ़वर्क फ्रॉम होम का लालच महिला को पड़ा महंगा, गंवाने पड़ गए लाखों रुपए

वर्क फ्रॉम होम का लालच महिला को पड़ा महंगा, गंवाने पड़ गए लाखों रुपए

महिला ने बताया कि उसे होटल या किसी रेस्टोरेंट का लिंक भेजा गया जिसमें उसे रेटिंग देना था। हर रेटिंग पर 200 रुपए देने की बात कही गई थी। इस ऑफर पर महिला काम करने के लिए राजी हो गई।

वर्क फ्रॉम होम का लालच महिला को पड़ा महंगा, गंवाने पड़ गए लाखों रुपए
Devesh Mishraलाइव हिंदुस्तान,दुर्गThu, 16 Nov 2023 10:59 PM
ऐप पर पढ़ें

अगर आप भी वर्क फ्रॉम होम नौकरी करने की तलाश करते रहते हैं तो सतर्क हो जाइए... कहीं ऐसा न हो कि ऑनलाइन नौकरी के नाम पर आप लाखों रुपए की ठगी के शिकार हो जाएं।‌ कुछ ऐसा ही मामला छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में सामने आया है। एक महिला को पहले नौकरी के लिए ऑफर दिया गया। फिर इन्वेस्ट करने के नाम पर तीन लाख से ज्यादा की ठगी को अंजाम दिया गया। यह मामला दुर्ग जिले के अमलेश्वर थाने का बताया जा रहा है। पुलिस और साइबर क्राइम की टीम आरोपियों तक पहुंचने की कोशिश में जुट गई है।

दरअसल, अमलेश्वर थाना अंतर्गत ग्रीन अर्थ सिटी की रहने वाली 29 साल की महिला एक प्राइवेट इंश्योरेंस कंपनी में मैनेजर के पद पर काम करती हैं। महिला के पास 9 नवंबर को एक अनजान नंबर से कॉल आया जिसमें व्यक्ति के द्वारा अपना नाम रोहित बताया गया था। महिला को आरोपी ने र्क फ्रॉम होम का ऑफर दिया और उनसे उनकी सारी जानकारी ले ली।

महिला ने बताया कि उसे होटल या किसी रेस्टोरेंट का लिंक भेजा गया जिसमें उसे रेटिंग देना था। हर रेटिंग पर 200 रुपए देने की बात कही गई थी। इस ऑफर पर महिला काम करने के लिए राजी हो गई।

काम शुरू हुआ और आरोपी द्वारा नियम और शर्त बताते हुए महिला के पास रेटिंग के लिए लिंक भेजा गया। जैसे ही महिला ने टास्क पूरा किया तो उसके अकाउंट में 200 रुपए आ गए। पैसे आने पर युवती को कंपनी पर भरोसा हो गया। उसे एक व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ा गया जहां ट्रेडिंग टास्क के नाम पर 1000 रुपए इन्वेस्ट करने पर 1500 रुपए मिलने की बात कही गई। उसने जैसे ही 1000 का पेमेंट किया उसके खाते में 1500 डाल दिए गए। यह सिलसिला लगातार चलता रहा। महिला से 1500 के बाद 3000, 8000, 28000, 98000 और 2 लाख रुपए तक लिए जा‌ चुके थे। जब तक महिला को ठगी का एहसास होता तब तक 3,36,560 रुपए की ठगी हो चुकी थी।

महिला जब यह समझ गई की उसके साथ ठगी हुई है तो वह इसकी शिकायत करने अमलेश्वर थाना पहुंची। जहां पुलिस ने उसकी शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज कर ली है। इस पूरे मामले को लेकर अमलेश्वर थाना प्रभारी अनिल पटेल ने बताया कि ठगी के मामले को देखते हुए साइबर क्राइम की टीम मामले की जांच करते हुए आरोपियों तक पहुंचने की कोशिश कर रही है।‌   

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें