ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ सरकार पर केजरीवाल के हमलों पर बिफरी कांग्रेस; दिल्ली सीएम को दिया चैलेंज

छत्तीसगढ़ सरकार पर केजरीवाल के हमलों पर बिफरी कांग्रेस; दिल्ली सीएम को दिया चैलेंज

Chhattisgarh Assembly Election: दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने शनिवार को छत्तीसगढ़ सरकार पर चुन-चुनकर हमले किए। इससे तिलमिलाई कांग्रेस ने केजरीवाल को नया चैलेंज दिया। देखना है कि AAP क्या जवाब देती है।

छत्तीसगढ़ सरकार पर केजरीवाल के हमलों पर बिफरी कांग्रेस; दिल्ली सीएम को दिया चैलेंज
Krishna Singhलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीSat, 19 Aug 2023 09:30 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को रायपुर के जैनम मानस भवन में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए सूबे की भूपेश बघेल सरकार पर जमकर हमला बोला। केजरीवाल ने छत्तीसगढ़ के सरकारी स्कूलों की हालत को बेहद दयनीय बताया। इसके बाद कांग्रेस ने केजरीवाल के हमलों पर जोरदार पलटवार किया। कांग्रेस ने कहा कि केजरीवाल दिल्ली में अपनी पसंद का एक क्षेत्र चुन लें जिसमें उनकी सरकार और पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के प्रदर्शनों की तुलना की जा सके।

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल द्वारा छत्तीसगढ़ में सरकारी स्कूलों की स्थिति को 'भयानक' बताए जाने के कुछ घंटों बाद कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा (Congress national spokesperson Pawan Khera) ने एक्स पर लिखा। रायपुर क्यों जाना? हमारी छत्तीसगढ़ सरकार के प्रदर्शन की तुलना तो पिछली रमन सिंह सरकार से की जाएगी। आइए हम अपनी पसंद का एक क्षेत्र चुन लें और दिल्ली में कांग्रेस सरकार बनाम AAP सरकार के प्रदर्शन की तुलना करें। बहस के लिए तैयार हैं? 

पवन खेड़ा ने दिल्ली सरकार पर तगड़ा पलटवार करते हुए कहा कि रायपुर की उड़ान भरने से पहले जरा दिल्ली के धरातल पर बात कीजिए जहां पूरा शहर रसातल में जा रहा है। गौरतलब यह कि I.N.D.I.A के दोनों सहयोगियों के बीच यह खींचतान ऐसे वक्त में सामने आई है जब अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों को लेकर दिल्ली में किसे कितनी सीटें मिलेंगी, इसे लेकर जुबानी जंग जारी है। राजधानी में सात लोकसभा सीटें हैं, जहां भाजपा ने 2014 और 2019 दोनों में क्लीन स्वीप किया था।

उल्लेखनीय है कि आम आदमी पार्टी के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने संबोधन में छत्तीसगढ़ की आवाम से कई वादे किए। उन्होंने कहा कि यदि उनकी सरकार बनी तो सूबे में बेहतर शिक्षा, मुफ्त बिजली, मुफ्त स्वास्थ्य सुविधाएं और बेरोजगारों के लिए तीन हजार रुपये मासिक भत्ता दिया जाएगा। केजरीवाल ने कुल 10 वादे किए और आम आदमी पार्टी को राज्य में एक बार मौका देने का अनुरोध किया। केजरीवाल और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने चुनावों के लिए AAP का गारंटी कार्ड जारी किया।