Wednesday, January 26, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ छत्तीसगढ़कांग्रेस ने मंत्रियों को सौंपी निकाय चुनाव में जीत की जिम्मेदारी, भाजपा ने भी टक्कर देने विधायकों को मैदान में उतारा

कांग्रेस ने मंत्रियों को सौंपी निकाय चुनाव में जीत की जिम्मेदारी, भाजपा ने भी टक्कर देने विधायकों को मैदान में उतारा

लाइव हिन्दुस्तान ,रायपुर Sandeep Diwan
Mon, 29 Nov 2021 06:57 PM
कांग्रेस ने मंत्रियों को सौंपी निकाय चुनाव में जीत की जिम्मेदारी, भाजपा ने भी टक्कर देने विधायकों को मैदान में उतारा

छत्तीसगढ़ के 10 जिलों के 15 नगरीय निकायों में हो रहे चुनाव के लिए भाजपा-कांग्रेस ने मोर्चाबंदी तेज कर दी है। कांग्रेस ने विरोधियों को पटखनी देने प्रदेश स्तर के नेताओं को मैदान में उतार दिया है तो भाजपा ने भी अपने दिग्गज नेताओं को सामने खड़ा कर दिया है। निकाय चुनाव को दोनों ही पार्टियों ने प्रतिष्ठा का प्रश्न बना लिया है। कांग्रेस जहां अपने विजय रथ को आगे बढ़ाने की योजना पर काम कर रही है तो वहीं भाजपा इसे रोकने की रणनीति में जुट गई है। दोनों ही पार्टियों ने बड़े नगर निगम रायपुर के बीरगांव, दुर्ग जिले के भिलाई, भिलाई-चरोदा और रिसाली निगम को फोकस किया है। बता दें कि निकाय चुनाव के लिए मतदान 20 दिसंबर को होना है। नामांकन की प्रक्रिया 27 नवंबर से ही शुरू हो चुकी है। तीन दिसंबर नामांकन दाखिल करने और 6 दिसंबर को नाम वापसी की अंतिम तारीख है। 

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम ने निकाय चुनाव के लिए विभिन्न समितियों का गठन कर जिम्मेदारी बांटी है, जिसमें कैबिनेट मंत्रियों को प्रचार-प्रसार की बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई है। पीसीसी चीफ ने कांग्रेस चुनाव प्रचार प्रसार समिति की घोषणा की है, जिसमें नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया को अध्यक्ष बनाया गया है। गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, कृषि रविन्द्र चौबे, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, आबकारी मंत्री कवासी लखमा, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत, पीएचई मंत्री गुरु रुद्र कुमार, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया और उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल को भी रखा गया है। कांग्रेस के लोकसभा सांसद दीपक बैज, कोरबा सांसद ज्योत्सना महंत, राज्यसभा सांसद फूलोदेवी नेताम भी इस समिति का हिस्सा बनाया हैं। 

कांग्रेस की चुनाव समिति की भी घोषणा
कांग्रेस ने चुनाव समिति भी घोषित कर दी है। इसमें कांग्रेस के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया, प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रभारी सचिव डॉ. चंदन यादव, सप्तगिरि शंकर उल्का की प्रमुख भूमिका होगी। मंत्री टीएस सिंहदेव, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, रविंद्र चौबे, डॉ. शिवकुमार डहरिया, मोहम्मद अकबर, प्रेमसाय सिंह टेकाम, कवासी लखमा, गुरु रुद्र कुमार, अनिला भेड़िया को भी इस समिति में जिम्मा मिला है। प्रदेश कांग्रेस के कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल, प्रभारी महामंत्री प्रशासन रवि घोष, प्रभारी महामंत्री संगठन चंद्रशेखर शुक्ला, गिरीश देवांगन को संगठन के प्रतिनिधि के तौर पर शामिल किया गया है। इसके अलावा एनएसयूआई सहित अन्य विंग के नेताओं को भी चुनाव समिति में जिम्मेदारी दी गई है। 

भाजपा ने किया चुनाव व राज्य कोर कमेटी का गठन 
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने राज्य कोर कमेटी का गठन किया है। कोर ग्रुप में वित्त समिति, प्रदेश चुनाव समिति, अनुशासन समिति का नए सिरे से गठन किया गया है। कोर ग्रुप में प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय, पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, राज्यसभा सांसद सरोज पांडेय, केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह, रामविचार नेताम, विक्रम उसेंडी, अरुण साव, पुन्नूलाल मोहिले, बृजमोहन अग्रवाल, पवन साय, गौरीशंकर अग्रवाल, केदार कश्यप शामिल किए गए हैं। गौरीशंकर अग्रवाल, केदार कश्यप, और अरुण साव नए नाम कोर ग्रुप में शामिल किए गए हैं। इसके साथ ही विशेष आमंत्रित सदस्यों में राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री शिवप्रकाश, प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी और सह प्रभारी नितिन नवीन शामिल हैं। कोर ग्रुप के अलावा वित्त समिति, प्रदेश चुनाव समिति एवं अनुशासन समिति की घोषणा की गई है।सभी समितियों में वर्तमान विधायक व पूर्व मंत्रियों के नाम हैं।   

epaper

संबंधित खबरें