ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़: नक्सलियों से लोहा लेने के दौरान 23 जवान हुए शहीद, आज मिले 18 शव, सर्च ऑपरेशन जारी

छत्तीसगढ़: नक्सलियों से लोहा लेने के दौरान 23 जवान हुए शहीद, आज मिले 18 शव, सर्च ऑपरेशन जारी

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा पर नक्सलियों के साथ मुठभेड़ के बाद आज यानी रविवार को 17 और शव बरामद हुए हैं। शनिवार को  बस्तर इलाके में नक्सलियों के साथ एनकाउंटर...

Sukma-Bijapur Naxal attack site
1/ 2Sukma-Bijapur Naxal attack site
14 more bodies of security personnel found at Chhattisgarh encounter site
2/ 214 more bodies of security personnel found at Chhattisgarh encounter site
हिन्दुस्तान टाइम्स,रायपुरSun, 04 Apr 2021 02:36 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा पर नक्सलियों के साथ मुठभेड़ के बाद आज यानी रविवार को 17 और शव बरामद हुए हैं। शनिवार को  बस्तर इलाके में नक्सलियों के साथ एनकाउंटर के बाद से 21 जवान लापता हैं, मगर आज सर्च ऑपरेशन के दौरान मुठभेड़ स्थल से सुरक्षाकर्मियों के 18 और शव मिले हैं। इस तरह से नक्सली हमले में कुल 23 जवान अब तक शहीद हो चुके हैं। बता दें कि कल ही पांच जवान शहीद हो गए थे और करीब 30 घायल जवान अस्पताल में भर्ती हैं। इस बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह अपना असम दौरा बीच में छोड़ कर दिल्ली लौट रहे हैं। 

खबर के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री अमित शाह छत्तीसगढ़ की स्थिति का जायजा लेने के लिए आज बैठक करेंगे। इसलिए वह असम में अपना चुनावी दौरान बीच में छोड़कर दिल्ली वापस आ रहे हैं। 

बता दें कि छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा पर नक्सलियों के साथ मुठभेड़ के बाद से 21 जवान लापता हैं और उनकी खोज जारी है। पुलिस अधिकारी ने बताया था कि सुरक्षा बलों ने घटनास्थल से एक महिला नक्सली का शव बरामद किया है। मुठभेड़ में नक्सलियों को भी काफी नुकसान होने की खबर है। 

दरअसल, बस्तर इलाके में शनिवार दोपहर लगभग 12 बजे जोनागुड़ा गांव के पास नक्सलियों की पीपुल्स लिबरेशन गुरिल्ला आर्मी (पीएलजीए) बटालियन और तर्रेम के सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ हुई थी। मुठभेड़ तीन घंटे से अधिक समय तक चली। पाल ने बताया था कि मुठभेड़ में कोबरा बटालियन का एक जवान, बस्तरिया बटालियन के दो जवान तथा डीआरजी के दो जवान (कुल पांच जवान) शहीद हो गए। इस दौरान 30 जवान घायल हुए हैं। घायल जवानों में से सात जवानों को रायपुर के अस्पताल में तथा 23 जवानों को बीजापुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस मामले पर दुख जताया और कहा कि जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी। उन्होंने कहा, 7 घायल सुरक्षाकर्मी जिन्हें रायपुर स्थानांतरित कर दिया गया था, खतरे से बाहर हैं। 21 जवान अब भी लापता हैं और बचाव दल उनकी तलाश कर रहा है। मुझे गृहमंत्री अमित शाह का फोन आया। उन्होंने सीआरपीएफ महानिदेशक को राज्य में भेजा है। मैं शाम को छत्तीसगढ़ लौटूंगा। 

उन्होंने आगे कहा, नक्सलियों और सुरक्षाकर्मियों के बीच 4 घंटे तक गोलीबारी हुई। नक्सलियों को भारी नुकसान हुआ है। हमारे सुरक्षाकर्मियों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी। बता दें कि आज अमित शाह ने भूपेश बघेल को फोन किया और हर संभव मदद का आश्वासन दिया। अमित शाह ने भी शहीदों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की और कहा कि उनकी शहादत को देश कभी नहीं भूलेगा।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें