ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ सरकार का बड़ा फैसला, एक सत्र में दो बार होंगे बोर्ड Exam, इन स्टूडेंट को लाभ

छत्तीसगढ़ सरकार का बड़ा फैसला, एक सत्र में दो बार होंगे बोर्ड Exam, इन स्टूडेंट को लाभ

छत्तीसगढ़ सरकार (Vishnudeo Sai Govt) ने विद्यार्थियों के हित में एक बड़ा फैसला लिया है। अब छत्तीसगढ़ में एक शैक्षणिक सत्र में दो बार बोर्ड की परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। किन छात्रों को लाभ जानें...

छत्तीसगढ़ सरकार का बड़ा फैसला, एक सत्र में दो बार होंगे बोर्ड Exam, इन स्टूडेंट को लाभ
Krishna Singhभाषा,रायपुरTue, 27 Feb 2024 12:53 AM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ की विष्णु देव साय की सरकार (Vishnudeo Sai Govt) ने विद्यार्थियों के हित में एक बड़ा फैसला लिया है। अब छत्तीसगढ़ में एक शैक्षणिक सत्र में दो बार बोर्ड की परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार ने बोर्ड परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों के हित में एक बड़ा निर्णय लिया है। राज्य शासन के निर्णय के अनुसार, एक शैक्षणिक सत्र में दो बार बोर्ड की परीक्षाएं आयोजित की जाएगी।

अधिकारियों ने बताया कि राज्य सरकार ने जो फैसला लिया है उसके मुताबिक, छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल रायपुर द्वारा प्रथम मुख्य परीक्षा मार्च माह में और द्वितीय मुख्य परीक्षा जून-जुलाई माह में आयोजित की जाएगी। स्कूल शिक्षा विभाग ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है। शासन द्वारा जारी आदेश के अनुसार, प्रथम परीक्षा मार्च माह में और द्वितीय परीक्षा जून-जुलाई माह में आयोजित की जाएगी।

अधिकारियों ने बताया कि पहली परीक्षा में रजिस्टर्ड छात्र ही दूसरी यानी सेकेंडरी परीक्षा में आवेदन पत्र भरने के लिए पात्र होंगे। हालांकि छात्रों को विषय बदलने की इजाजत नहीं होगी। प्रथम परीक्षा के बाद द्वितीय परीक्षा में शामिल होने के लिए छात्रों को फिर से आवेदन पत्र भरना होगा। द्वितीय परीक्षा में वे छात्र जो पूरक के पात्र हैं, वे छात्र जो सभी विषयों में अनुत्तीर्ण हैं, ऐसे छात्र जो श्रेणी सुधार करना चाहते हैं, वे भी दूसरी परीक्षा में आवेदन कर सकते सकते हैं।

उत्तीर्ण छात्र अंक सुधार के लिए एक विषय, दो विषय या अधिक विषय में दूसरी परीक्षा का आवेदन भर सकते है। इनमें द्वितीय परीक्षा में वे छात्र भी सम्मिलित हो सकते हैं जो प्रथम परीक्षा में परीक्षा आवेदन फार्म भरने के बाद अनुपस्थित थे। द्वितीय परीक्षा का परिणाम दोनों परीक्षाओं में से विषयवार अधिक प्राप्तांक के आधार पर तैयार किया जाएगा। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल के सचिव विजय कुमार गोयल ने बताया कि इस नियम को किस शैक्षणिक सत्र से लागू किया जाएगा, इसका फैसला जल्द ही किया जाएगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें