ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ में सरकार बनने के बाद आम लोगों को सबसे पहले मिलने वाला तोहफा, कांग्रेस-बीजेपी की घोषणा के सांथ महिलाओं को मिलने वाला फायदा क्या?

छत्तीसगढ़ में सरकार बनने के बाद आम लोगों को सबसे पहले मिलने वाला तोहफा, कांग्रेस-बीजेपी की घोषणा के सांथ महिलाओं को मिलने वाला फायदा क्या?

छत्तीसगढ़ में चुनाव को लेकर मतदान खत्म होने के बाद 3 दिसंबर को नतीजे सबके सामने आ जाएंगे आखिर प्रदेश की सत्ता की चाबी कांग्रेस पार्टी के हाथ में होगी या फिर भाजपा के वह तय हो जाएगा।

छत्तीसगढ़ में सरकार बनने के बाद आम लोगों को सबसे पहले मिलने वाला तोहफा, कांग्रेस-बीजेपी की घोषणा के सांथ महिलाओं को मिलने वाला फायदा क्या?
Swati Kumariलाइव हिंदुस्तान,रायपुरTue, 21 Nov 2023 02:51 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ में किसकी सरकार बनेगी इसको लेकर गली-मोहल्ला , राजनीति की बात करने वाले लोगों ने आकलन लगना शुरू कर दिया है। छत्तीसगढ़ में चुनाव को लेकर मतदान खत्म होने के बाद 3 दिसंबर को नतीजे सबके सामने आ जाएंगे आखिर प्रदेश की सत्ता की चाबी कांग्रेस पार्टी के हाथ में होगी या फिर भाजपा के वह तय हो जाएगा। लेकिन इस सब के बीच एक बात जो बार-बार सामने आ रही है कि सरकार चाहे बीजेपी की बने या फिर कांग्रेस की सबसे पहले वह कौन सा वादा होगा जो दोनों ही दल सत्ता में आने के बाद सबसे पहले निभाएंगे। क्या पहले कर्ज माफी होगी या फिर किसानों के बोनस का बकाया पैसा सबसे पहले दिया जाएगा? 

कांग्रेस सत्ता में आई तो सबसे पहले वादा पूरा होगा...

छत्तीसगढ़ में अगर कांग्रेस पार्टी सत्ता में आती है तो एक बार फिर से यह कयास लगाया जा रहे हैं कि मुख्यमंत्री बनने के साथ-साथ सबसे पहले कर्ज माफी का वादा कांग्रेस पार्टी निभाएगी। क्योंकि साल 2018 के विधानसभा के चुनाव में कांग्रेस पार्टी ने कर्ज माफी को मुद्दा बना कर छत्तीसगढ़ की गद्दी पर बैठी थी और सबसे पहले कर्ज माफी का वादा पहले कैबिनेट में बैठकर कर्ज माफी के मुद्दे पर मोहर लगा दिया गया था। इस बार के विधानसभा के चुनाव में भी यह उम्मीद है कि अगर कांग्रेस पार्टी की सरकार बनती है तो एक बार फिर किसानों का कर्ज सबसे पहले माफ किया जाएगा। इसके साथ ही धान की इनपुट सब्सिडी देने पर भी सरकार मोहर लगा देगी। 

भाजपा की सरकार बनते ही सबसे पहला फायदा

छत्तीसगढ़ में 5 साल सत्ता से बाहर रहने के बाद भारतीय जनता पार्टी की सरकार अगर एक बार फिर छत्तीसगढ़ में बनती है तो भाजपा  किसानों के लिए सबसे पहले खुशियां ला सकती है। माना जा रहा है कि सरकार बनने के साथ ही सबसे पहले भारतीय जनता पार्टी किसानों का बकाया बोनस तत्काल देने का फैसला करेगी। घोषणा पत्र के वादे के अनुसार भाजपा 25 दिसंबर यानी राष्ट्रीय सुशासन दिवस के अवसर पर धान खरीदी का बोनस सबसे पहले बांटने का काम करेगी। 


महिलाओं को भी रहेगी सरकार बनने के साथ ही बड़ा इंतजार

साल 2023 के विधानसभा के चुनाव में भाजपा और कांग्रेस दोनों ने हीं महिलाओं को लेकर बड़े-बड़े वादे किए हैं। जहां एक तरफ भारतीय जनता पार्टी ने 12000 सालाना बोनस महतारी वंदन योजना के तहत और कांग्रेस पार्टी 15000 रुपए छत्तीसगढ़ गृह लक्ष्मी योजना की राशी सीधा महिलाओं के खाते में देने का वादा किए हैं। इसके साथ ही गैस की सब्सिडी, महिला स्व सहायता समूह का कर्ज माफ जैसी घोषणाएं कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों ने मिलकर की है। सरकार बनने के साथ ही महिलाओं को भी जिन्होंने विधानसभा 2023 के चुनाव में छत्तीसगढ़ में पुरुषों की अपेक्षा सबसे ज्यादा वोट किया है उन्हें भी इंतजार रहेगा। लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि चाहे कांग्रेस की सरकार बनी या फिर भारतीय जनता पार्टी की महिलाओं को लेकर किए गए वादे सरकार अपने प्रथम वित्तीय वर्ष के बजट में शामिल कर पूरा करेगी।