ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ चुनाव से पहले केंद्र ने बस्तर संभाग के 24 भाजपा नेताओं को दी एक्स श्रेणी की सुरक्षा

छत्तीसगढ़ चुनाव से पहले केंद्र ने बस्तर संभाग के 24 भाजपा नेताओं को दी एक्स श्रेणी की सुरक्षा

छत्तीसगढ़ में विधानसभा की चुनावी सरगर्मी के बीच केंद्र सरकार ने बस्तर संभाग के 24 भाजपा नेताओं को एक्स श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है। कुछ महीनों के दौरान नक्सली चार भाजपा नेताओं की हत्या कर चुके हैं।

छत्तीसगढ़ चुनाव से पहले केंद्र ने बस्तर संभाग के 24 भाजपा नेताओं को दी एक्स श्रेणी की सुरक्षा
Krishna Singhएस करीमुद्दीन,बस्तरThu, 12 Oct 2023 05:38 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों को लेकर प्रचार अभियान अब रफ्तार पकड़ने वाला है। इन चुनावों में नक्सली हमलों की आशंका पर भी गौर किया जा रहा है। बस्तर में पिछले कुछ महीनों में नक्सलियों द्वारा चार भाजपा नेताओं की हत्या के बाद, केंद्र सरकार सतर्क है। केंद्र सरकार ने राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी के 24 स्थानीय नेताओं को 'एक्स' श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है। बस्तर में अधिकारियों ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भाजपा से संबंधित 24 स्थानीय पदाधिकारियों को एक्स श्रेणी की सीआरपीएफ सुरक्षा के संबंध में आदेश जारी किया है। 

इस डेवलपमेंट से अवगत अधिकारियों ने बताया कि जिन नेताओं को एक्स श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराई गई है वे बस्तर क्षेत्र के माओवाद प्रभावित बीजापुर, दंतेवाड़ा, सुकमा और कोंडागांव से हैं। प्रथम दृष्टया ऐसा मालूम पड़ता है कि यह निर्णय बस्तर क्षेत्र में आगामी विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। बस्तर क्षेत्र में तैनात एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा- आम तौर पर श्रेणियां या तो राज्य सरकार या केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की जाती हैं। 

राज्य सरकार पहले ही बस्तर क्षेत्र में 70 से अधिक लोगों को सुरक्षा दे चुकी है, जिसमें भाजपा, कांग्रेस, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) के पदाधिकारी और सामाजिक कार्यकर्ता शामिल हैं। राज्य सरकार की सुरक्षा समीक्षा समिति व्यक्तियों के लिए सुरक्षा खतरों का आकलन करती है और Z +, Z, Y +, Y और X श्रेणी से भिन्न सुरक्षा श्रेणियां प्रदान करती है। Z+ उच्चतम है और X न्यूनतम श्रेणी की सुरक्षा है। सुरक्षा दिए जाने के आदेश पर अमल अगले कुछ दिनों में कर लिया जाएगा।

गौरतलब है कि फरवरी में नक्सलियों ने तीन लोगों की हत्या कर दी थी जो इस क्षेत्र में भाजपा के पदाधिकारी थे। फरवरी में नारायणपुर जिले में बीजेपी के पदाधिकारी रहे सागर साहू (47) की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसके दो दिन बाद पूर्व सरपंच रामधर आलमी, जो पिछले 15 वर्षों से भाजपा के सक्रिय सदस्य थे, उनकी हत्या कर दी गई थी। इसी हफ्ते बीजापुर जिले के आवापल्ली इलाके में बीजेपी के मंडल अध्यक्ष नीलकंठ कक्कम की माओवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। 21 फरवरी को बीजापुर जिले में भाजपा के एक पूर्व सरपंच की नक्सलियों ने हत्या कर दी थी। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें