ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ छत्तीसगढ़भानुप्रतापपुर सीट उपचुनाव : भाजपा उम्मीदवार झारखंड में बलात्कार के मामले में आरोपी, कांग्रेस का दावा

भानुप्रतापपुर सीट उपचुनाव : भाजपा उम्मीदवार झारखंड में बलात्कार के मामले में आरोपी, कांग्रेस का दावा

मरकाम ने आरोप लगाया कि 15 मई 2019 को झारखंड पुलिस ने जमशेदपुर के टेल्को पुलिस थाने में मामला दर्ज किया था, जिसमें आरोप लगाया गया था कि 15 वर्षीय एक किशोरी को कथित तौर पर देह व्यापार में धकेला गया।

भानुप्रतापपुर सीट उपचुनाव : भाजपा उम्मीदवार झारखंड में बलात्कार के मामले में आरोपी, कांग्रेस का दावा
Praveen Sharmaकांकेर | भाषाMon, 21 Nov 2022 07:55 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ में सत्तारूढ़ कांग्रेस ने दावा किया है कि भानुप्रतापपुर सीट पर पांच दिसंबर को होने वाले उपचुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार ब्रह्मानंद नेताम पड़ोसी राज्य झारखंड में बलात्कार के एक मामले में आरोपी हैं और उन्होंने अपने चुनावी हलफनामे में इसका विवरण नहीं दिया है। हालांकि, नेताम ने इन आरोपों का खंडन किया और इसे उनकी छवि खराब करने के लिए कांग्रेस की साजिश करार दिया।

प्रदेश कांग्रेस प्रमुख मोहन मरकाम ने भानुप्रतापपुर नगर में रविवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उनकी पार्टी निर्वाचन आयोग से इसकी शिकायत करेगी और उपचुनाव के लिए नेताम के नामांकन पत्र में कथित रूप से गलत विवरण प्रस्तुत करने के लिए उनकी उम्मीदवारी रद्द करने की मांग करेगी।

2019 में जमशेदपुर में दर्ज हुआ था केस

मरकाम ने आरोप लगाया कि 15 मई 2019 को झारखंड पुलिस ने जमशेदपुर के टेल्को पुलिस थाने में मामला दर्ज किया था, जिसमें आरोप लगाया गया था कि 15 वर्षीय एक किशोरी को कथित तौर पर देह व्यापार में धकेला गया और कई लोगों ने उसके साथ बलात्कार किया। उन्होंने दावा किया कि भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 366 ए, 376, 376 (3), 376 एबी, 129 बी, यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) एक्ट और देह व्यापार (रोकथाम) अधिनियम की धारा 4 और 6 के तहत मामला दर्ज किया गया था। उन्होंने कहा कि शुरू में इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था और जांच के दौरान कांकेर जिले के चरमा कस्बे के रहने वाले पूर्व भाजपा विधायक ब्रह्मानंद नेताम और चार अन्य को भी आरोपी बनाया गया।

नेताम पर चुनावी हलफनामे जानकारी छुपाने का आरोप

उन्होंने दावा किया कि मामले के आरोपपत्र में भी नेताम का नाम आरोपी के तौर पर है, लेकिन उन्होंने भानुप्रतापपुर उपचुनाव के लिए नामांकन पत्र के तहत दायर अपने चुनावी हलफनामे में विवरण छुपाया। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीदवार बनाकर भाजपा परोक्ष तौर पर यह संदेश देने की कोशिश कर रही है कि ऐसे अपराधियों को संरक्षण देने में वह सबसे आगे है। अगर भाजपा में नैतिकता बची है तो उसे नेताम से अपना पार्टी चिन्ह वापस ले लेना चाहिए। अगर वह ऐसा नहीं करती है तो इसके लिए भानुप्रतापपुर के लोग उसे सबक सिखाएंगे।

मरकाम ने कहा कि कांग्रेस छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनके झारखंड समकक्ष हेमंत सोरेन को शिकायत करके नेताम की गिरफ्तारी की मांग करेगी। वह छत्तीसगढ़ के निर्वाचन अधिकारी और मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय से भी शिकायत करेगी और चुनावी हलफनामे में कथित तौर पर गलत जानकारी देने के लिए नेताम की उम्मीदवारी रद्द करने की मांग करेगी।

आरोपों को खारिज करते हुए नेताम ने संवाददाताओं से कहा कि उनके खिलाफ ऐसा कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है। नेताम ने दावा किया कि उपचुनाव में हार के डर से कांग्रेस मेरी छवि खराब करने की साजिश के तहत इस तरह के आरोप लगा रही है। मेरे खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं है। अगर ऐसा होता तो मैंने अपने चुनावी हलफनामे में इसका जिक्र किया होता।