ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News छत्तीसगढ़अंबिकापुर में अस्पताल के छत में पैदा हुआ बच्चा, डॉक्टरों की‌ लापराही से गई जान

अंबिकापुर में अस्पताल के छत में पैदा हुआ बच्चा, डॉक्टरों की‌ लापराही से गई जान

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज‌ में एक गर्भवती ने अस्पताल की छत पर बच्चे को जन्म दिया‌ है।  इस मामले में डॉक्टरों की‌ लापरवाही के कारण नवजात की मां के पेट‌ पर ही मौत‌ हो गई है। 

अंबिकापुर में अस्पताल के छत में पैदा हुआ बच्चा, डॉक्टरों की‌ लापराही से गई जान
Rohit Burmanलाइव हिन्दुस्तान,रायपुरFri, 23 Feb 2024 06:17 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में डॉक्टरों की लापरवाही से एक बार फिर स्वास्थ्य व्यवस्था पर सवाल खड़ा होने लगा है। अंबिकापुर के मेडिकल कॉलेज में एक महिला ने अस्पताल की‌ छत‌ पर ही बच्चे को जन्म दिया, लेकिन डॉक्टरों की इस लापरवाही के कारण बच्चा मृत पैदा हुआ। इस घटना के बाद अस्पताल में परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया है। परिजन दोषियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। 

बतादें कि अंबिकापुर के शंकरगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से मेडिकल कॉलेज एक गर्भवती महिला को डिलीवरी के लिए लाया‌‌ गया था। जब महिला को डॉक्टर की‌ सलाह पर सोनोग्रॉफी के लिए ऊपर ले जाया‌ जा‌ रहा था, उस वक्त मां ने बच्चे को जन्म दे दिया,  लेकिन बच्चा मृत‌ पैदा हुआ। बताया जा रहा है कि जब महिला के पति ने इमरजेंसी केस बताते हुए डॉक्टर से जल्दी सोनोग्राफी करने की विनती भी की थी। इस बीच जब महिला को ज्यादा पीड़ा होने लगी तो वह छत पर बालकनी के पास चली गई, जहां उसने मृत बच्चों को जन्म दिया है। 

इस पूरे मामले के बाद मेडिकल कॉलेज के सिविल सर्जन डॉक्टर जीके रेलवानी ने बताया कि महिला को प्रसव पीड़ा होने के बाद अस्पताल लाया गया था। गर्भ में बच्चों की धड़कन नहीं चल रही थी, यही वजह थी कि शंकरगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से महिला को रेफर किया गया था। मेडिकल कॉलेज अस्पताल के डॉक्टरों ने महिला के साथ जूनियर डॉक्टर अंकिता को सोनोग्राफी करने के लिए भेजा था। इस बीच प्रसव पीड़ा बढ़ गई और जब वह बालकनी में पहुंची तो उसने मृत बच्चे को जन्म दिया है। मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर का कहना है कि इस पूरे मामले में मेडिकल नेग्लिजेंसी की कोई बात नहीं है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें