DA Image
7 मई, 2021|12:57|IST

अगली स्टोरी

छत्तीसगढ़: बीजापुर में नक्सलियों से मुठभेड़ के बाद 15 जवान लापता, 5 हुए थे शहीद, 30 घायलों का चल रहा इलाज

sukma encounter

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले के सीमावर्ती क्षेत्र में शनिवार को सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ के दौरान पांच जवान शहीद हो गए थे और अब छत्तीसगढ़ पुलिस सूत्रों ने बताया है कि एनकाउंटर के बाद से अब तक कम से कम 15 जवान लापता हैं। वहीं, शहीद हुए पांच जवानों में से 2 के शव भी बरामद कर लिए गए हैं। 

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, मुठभेड़ में घायल 23 जवानों को बीजापुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है तो वहीं 7 जवानों को रायपुर अस्पताल भेजा गया है।

राज्य के नक्सल विरोधी अभियान के पुलिस उप महानिरीक्षक ओपी पाल ने बताया था कि शुक्रवार रात को बीजापुर और सुकमा जिले से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की कोबरा बटालियन, डीआरजी और एसटीएफ के संयुक्त दल को नक्सल विरोधी अभियान में रवाना किया गया था। उन्होंने बताया कि नक्सल विरोधी अभियान में बीजापुर जिले के तर्रेम, उसूर और पामेड़ से तथा सुकमा जिले के मिनपा और नरसापुरम से करीब दो हजार जवान शामिल थे।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि शनिवार दोपहर लगभग 12 बजे बीजापुर-सुकमा जिले की सीमा पर सुकमा जिले के जगरगुंड़ा थाना क्षेत्र के अंतर्गत जोनागुड़ा गांव के करीब नक्सलियों की पीएलजीए बटालियन तथा तर्रेम के सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ तीन घंटे से अधिक समय तक चली।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों ने घटनास्थल से एक महिला नक्सली का शव बरामद किया है।

इससे पहले 23 मार्च को नक्सलियों ने नारायणपुर जिले में बारूदी सुरंग में विस्फोट कर बस को उड़ा दिया था। इस घटना में बस में सवार डीआरजी के पांच जवान शहीद हो गए थे।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:At least 15 jawans missing after Sukma encounter Bodies of 2 out of 5 jawans who died in encounter recovered 30 injured