ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News छत्तीसगढ़फर्जी जॉब कन्सलटेंसी खोलकर धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का हुआ पर्दाफाश, 8 आरोपियों के साथ नकली नोट छपाई का मिला समान

फर्जी जॉब कन्सलटेंसी खोलकर धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का हुआ पर्दाफाश, 8 आरोपियों के साथ नकली नोट छपाई का मिला समान

रायपुर में नकली नोट छापने और जॉब कन्सलटेंसी खोलकर धोखाधड़ी करने वाले एक गिरोह का रायपुर पुलिस ने पर्दाफाश किया है। रायपुर पुलिस ने नकली नोटों की छपाई और धोखाधड़ी करने वाले 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है

फर्जी जॉब कन्सलटेंसी खोलकर धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का हुआ पर्दाफाश, 8 आरोपियों के साथ नकली नोट छपाई का मिला समान
Rohit Burmanलाइव हिन्दुस्तान,रायपुरSat, 15 Jun 2024 09:06 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पुलिस ने 8 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। रायपुर पुलिस ने नकली नोट छापने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए नौकरी नाम पर धोखाधड़ी की वारदात को अंजाम दे रहे आरोपियों का पर्दाफाश किया है। पुलिस के मिताबिक गिरोह के द्वारा रायपुर में नौकरी दिलाने के नाम पर लोगों से ठगी करते थे। 

जानकारी के मुताबिक यह लोग फर्जी कंपनी खोलकर नौकरी दिलाने के नाम पर पैसे ऐंठने का काम कर रहे थे, जिसकी पुलिस को लगातार शिकायत मिल रही थी। ये गिरोह पंडरी में पैन इंडिया जॉब कन्सलटेंसी के नाम से फर्जी ऑफिस खोलकर लोगों से ठगी कर रहा था। बताया जा रहा है कि जब पुलिस मैके पर रेड मारने पहुंची तो कार्यालय बंद मिला। जिसके बाद पुलिस ने कार्यालय को खोलवाकर ऑफिस के अंदर रखे लैपटाप को जप्त किया गया है। जिसमें गिरोह के संबंध में कई महत्वपूर्ण जानकारियां मिली है। पुलिस को यह भी पता चला है कि इसका एक और ब्रांच अशोका रतन रायपुर में स्थित है। जिसके बाद पुलिस की टीम ने अशोका रतन स्थित कार्यालय में दबिश दी है।

फर्जी जॉब कन्सलटेंसी के नाम पर दे रहे थे धोका

पुलिस के द्वारा दोनों इलाकों पर रेड मारने के बाद आरोपियों को गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ की गई है। पूछताछ में पता चला है कि यह लोग जॉब कन्सलटेंसी, जॉब पेन इंडिया कंपनी पंडरी एवं अशोका रतन, अनुपम नगर रायपुर में खोलकर लोगो को जॉब दिलाने हेतु रजिस्ट्रेशन कर, रजिस्ट्रेशन फीस लेते थे। इसके साथ ही अभ्यर्थियों को इन्टरव्यू में फेल कर कैंडिडेट्स को पास कराने के नाम पर उनसे पैसे लेते थे। जिसके बाद ये स्पाईस जेट कंपनी के नाम से अपाइटमेंट लेटर भेजते थे। लेकिन जब वे वहां पहुंचते थे तो वहां ऐसी किसी भी बात से इंकार कर दिया जाता था। आरोपियों ने यह भी बताया कि, वाटर प्रिंटर की मदद से वो 500-500 रूपये की नोटों को छापते थे और उन्हें बाजार में चला दिया करते थे। 

पुलिस ने छापे में आरोपियों के कब्जे से 1 रायल इंनफील्ड बुलेट वाहन, 1 थार चारपहिया वाहन, 27 नग मोबाइल फोन, 14 नग कीपेड फोन, 3 नग सोने की चैन, 1 नग सोन की ब्रेसलेट, 3 नग सोने की अंगुठी, 1 नग सोने की नेकलेस, 4 नग लैपटाप, 1 नग कलर प्रिन्टर, 2 सीट 500-500/- रूपये छपे हुए नकली नोट (प्रत्येक में 04 नग), 165 नग नोट छापने का कोरा सीट, वाटर मार्क इंक, विभिन्न बैंको का पासबुक, एटीएम कार्ड और चेकबुक बरामद किया है। जिसकी कीमत 23,75,000 रुपये बताई जा रही है।

Advertisement