ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News छत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ में 30 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण, 9 माओवादियों पर 39 लाख का था इनाम

छत्तीसगढ़ में 30 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण, 9 माओवादियों पर 39 लाख का था इनाम

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में बड़ी संख्या में नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है। जिले में 39 लाख के इनामी 30 माओवादियों ने आत्म समर्पण कर मुख्य धारा पर लौटे हैं।

छत्तीसगढ़ में 30 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण, 9 माओवादियों पर 39 लाख का था इनाम
Rohit Burmanलाइव हिन्दुस्तान,रायपुरTue, 14 May 2024 04:18 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में बड़ी संख्या में नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है। 30 माओवादियों ने नक्सली संगठन छोड़कर डीआईजी सीआरपीएफ और एसपी बीजापुर के समक्ष आत्मसमर्पण किया है। इन नक्सलियों में 39 लाख के इनामी भी शामिल है। 

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में 30 माओवादियों ने आत्म समर्पण करते हुए समाज की मुख्य धारा से जोड़ने का काम किया है। बताया जा रहा है कि इन नक्सलियों में 9 नक्सली के ऊपर 39 लख रुपए का इनाम घोषित था। बतादें कि साल 2024 के जनवरी माह से लेकर अब तक बीजापुर जिले में 180 नक्सलियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। जबकि 76 नक्सलियों ने नक्सली संगठन छोड़कर मुख्य धारा से जुड़ते हुए आत्मसमर्पण किया है।

बतादें कि छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बलों के द्वारा चलाई जाने वाली लोन वर्राटू अभियान के तहत अब तक कई नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है। इस अभियान से जुड़कर आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों को 25 हजार रुपए दिए जाते हैं।‌इसके साथ ही सरकार के द्वारा मिलेन वाली योजना का लाभ दिया जाता है। यह योजना सिर्फ छत्तीसगढ़ में आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों को मिलती है‌। 

नक्सलवादी विचारधारा से निराश होकर किया आत्मसमर्पण

नक्सलियों के आत्मसमर्पण को लेकर पुलिस ने बयान जारी करते हुए कहा कि इन 30 नक्सलियों में से छह महिलाओं ने भी आत्मसमर्पण किया है। अधिकारियों ने बताया कि आदिवासियों पर माओवादियों के द्वारा किए गए अत्याचारों और खोखली नक्सलवादी विचारधारा से निराश होकर सभी ने आत्मसमर्पण किया है। बताया जा रहा है कि यह सभी आत्मसमर्पण करने वाले नक्सली पुलिस की पुनर्वास नीति से प्रभावित थे। 

30 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

जिन 30 माओवादियों ने आत्मसमर्पण उनमें मिटकी काकेम उर्फ ​​​​सरिता (35), सैन्य कंपनी नंबर की सदस्य थी। 2 माओवादी, और मुरी मुहंदा उर्फ ​​सुखमती (32), प्लाटून नंबर की सदस्य। विज्ञप्ति में कहा गया है कि 30 में से प्रत्येक के सिर पर 8 लाख रुपये का इनाम था। इसके अलावा राजिता वेट्टी (24), देवे कोवासी (24) और आयता सोढ़ी (22), सभी प्लाटून सदस्य, और सिनू, बटालियन नंबर के सदस्य। मुन्ना हेमला (35), आयतु मिडियम (38) और आयतु करम (50), माओवादियों के 'जनताना सरकार' समूहों के प्रमुख के रूप में सक्रिय थे।

IED ब्लास्ट में दो बच्चो की मौत पर सीएम का दिखा नक्सलियों पर गुस्सा

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में IED ब्लास्ट में दो बच्चों की मौत हो गई थी। IED ब्लास्ट से दोनों बच्चों की मौत के बाद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने नक्सलियों के खात्मे की बात करते हुए दोनों बच्चों की मौत पर संवेदना व्यक्त की है।