ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News छत्तीसगढ़बागेश्वर बाबा की सभा में 1000 लोगों ने की घर वापसी, 251 परिवारों का किया शुद्धिकरण; प्रबल प्रताप जूदेव ने धुलवाए पैर

बागेश्वर बाबा की सभा में 1000 लोगों ने की घर वापसी, 251 परिवारों का किया शुद्धिकरण; प्रबल प्रताप जूदेव ने धुलवाए पैर

वहीं, घर वापसी पर बागेश्वर धाम के महाराज पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने कहा कि जो भी लोग सनातन धर्म में लौटे हैं वो हनुमान जी की मर्जी से आए हैं।

बागेश्वर बाबा की सभा में 1000 लोगों ने की घर वापसी, 251 परिवारों का किया शुद्धिकरण; प्रबल प्रताप जूदेव ने धुलवाए पैर
Swati Kumariलाइव हिन्दुस्तान,रायपुरSat, 27 Jan 2024 11:04 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ में धर्मांतरण का मामला एक बार फिर सुर्खियों में है। रायपुर के गुढिय़ारी में बागेश्वर धाम के पीठाधिश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री महाराज के हनुमंत कथा का पांच दिवसीय कार्यक्रम का आज आखरी दिन था। यहां, लगभग 1000 लोगों ने शनिवार को रायपुर में बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र शास्त्री के हनुमंत कथा में 251 परिवार के धर्मांतरित लोगों की घर वापसी का आयोजन किया गया। 

सनातन धर्म में घर वापसी करने वालों में ईसाई और मुस्लिम समुदाय में गए लोग शामिल हैं। बीजेपी नेता प्रबल प्रताप सिंह जूदेव ने सभी के पैर धोकर उनको वापस सनातन धर्म में प्रवेश कराया। इस मौके पर हवन और पूजन का भी आयोजन किया गया। जिन लोगों ने सनातन धर्म में वापसी कि वो पहले इसी धर्म में जुड़े थे, घर वापसी करने वाले सभी लोग सरगुजां संभाग के रहने वाले हैं। सभी लोगों की सनातन धर्म में वापसी का दावा प्रबल प्रताप सिंह जूदेव कर रहे हैं। 

बीजेपी नेता प्रबल प्रताप सिंह जूदेव ने कहा, 'घर वापसी बहुत बड़ा राष्ट्र निर्माण का काम है। इनका धर्मांतरण बहुत ही गलत तरीके से कराया गया है। झूठ बोलकर हिंदू देवताओं का अपमान कर के यह कराया गया है। घर वापसी से ये सनातनी परंपरा से जुड़ते हैं इससे राष्ट्र मजबूत होता है। ये कार्यक्रम तो हम काफी पहले से करते आ रहे हैं। हमारे पिता जी ने भी घर वापसी का काम कराया है।'

वहीं, घर वापसी पर बागेश्वर धाम के महाराज पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने कहा कि जो भी लोग सनातन धर्म में लौटे हैं वो हनुमान जी की मर्जी से आए हैं।पूर्व में भी जब रायपुर में बागेश्वर धाम महाराज की कथा हुई थी तब कई लोगों ने सनातन धर्म का दामन थामा था।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें