DA Image
हिंदी न्यूज़ › करियर › World Ozone Day 2020 : जानें क्यों मनाया जाता है विश्व ओजोन दिवस और क्या है इसका महत्व
करियर

World Ozone Day 2020 : जानें क्यों मनाया जाता है विश्व ओजोन दिवस और क्या है इसका महत्व

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Pankaj Vijay
Wed, 16 Sep 2020 09:50 AM
World Ozone Day 2020 : जानें क्यों मनाया जाता है विश्व ओजोन दिवस और क्या है इसका महत्व

World Ozone Day 2020: ओजोन परत के बारे में लोगों में जागरूक करने के मकसद से हर वर्ष 16 सितंबर को विश्व ओजोन दिवस मनाया जाता है। वायुमंडल में ओजोन परत सूर्य से निकलने वाली हानिकारक अल्ट्रावाइलट किरणों से पृथ्वी को बचाती हैं। सूर्य से निकलने वाली ये किरणें त्वचा रोग समेत कई बीमारियों का कारण बन सकती हैं। यानी दूसरे शब्दों में कहें तो ओजोन की परत के बिना पृथ्वी पर जीवन मुमकिन नहीं होता। हर साल ओजोन परत के संरक्षण के लिए एक अलग थीम तैयार करके लोगों को इसके महत्व के बारे में जानकारी दी जाती है। विश्व ओजोन दिवस 2020 की थीम 'ओजोन फॉर लाइफ (Ozone For Life)' है। 

क्या है ओजोन परत
ओजोन (ओ3) हमारे वायुमंडल का सबसे बाहरी आवरण है। ये परत ऑक्सीजन के तीन परमाणुओं से मिलकर बनी बिना गंध वाली गैस है। यह धरती पर सूर्य की हानिकारण अल्ट्रावाइलट किरणें पहुंचने नहीं देती। लेकिन प्रदूषण ने ओजोन में छेद कर दिए हैं जिससे बीमारियों का खतरा बढ़ा है। 

पृथ्वी से निकलने वाली रासायनिक गैसें ओजोन परत को नुकसान पहुंचाती हैं। कई वैज्ञानिकों का कहना है कि रेफ्रिजरेटर और एसी ओजोन परत को नुकसान पहुंचा रहे हैं। 

ओजोन दिवस की शुरुआत
1970 के दशक के अंत में वैज्ञानिकों को ओजोन परत में छेदों के बारे में पता चला। इसके बाद 80 के दशक में विश्व के कई देशों की सरकार ने इस समस्या पर चिंतन करना शुरू किया। 1985 में दुनिया की सरकारों ने ओजोन परत की सुरक्षा के लिए वियना कन्वेशन को अपनाया। इसके बाद 19 दिसंबर 1994 को यूएन की जनरल असेंबली ने 16 सितंबर को ओजोन लेयर के बचाव के लिए अंतरराष्ट्रीय दिवस मनाने का फैसला किया। पहला ओजोन डे 16 सितंबर 1995 को मनाया गया था।
 

संबंधित खबरें