ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरनौकरी ज्वाइन करते समय महिलाओं को जरूर पूछने चाहिए ये 8 इंश्योरेंस रिलेटेड सवाल

नौकरी ज्वाइन करते समय महिलाओं को जरूर पूछने चाहिए ये 8 इंश्योरेंस रिलेटेड सवाल

अगर आप एक महिला हैं और नई नौकरी ज्वाइन कर रही हैं, या किसी कंपनी में वर्तमान में कार्यरत हैं, तो आपको अपनी कंपनी के HR से इंश्योरेंस रिलेटेड ये सवाल जरूर पूछने चाहिए, ताकि भविष्य में किसी प्रकार की प

नौकरी ज्वाइन करते समय महिलाओं को जरूर पूछने चाहिए ये 8 इंश्योरेंस रिलेटेड सवाल
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 23 Feb 2024 08:39 PM
ऐप पर पढ़ें

Insurance-Related Questions: जब हमें कोई नौकरी मिलती है, तो हम कंपनी के बारे में बेहतर समझ पाने के लिए एचआर से नौकरी की भूमिका और अन्य लाभों के बारे में कई सवाल पूछते हैं। लेकिन अगर आप एक महिला हैं तो आपको ज्वाइन करने से पहले एचआर टीम से  इंश्योरेंस  से जुड़े सवाल पूछने चाहिए ताकि जरूरत पड़ने पर आपकी जेब पर बोझ न पड़े। आइए जानते हैं उन सवालों के बारे में।

आइए जानते हैं कैसे सवाल पूछ सकती हैं महिलाएं

1. सबसे पहले यह जानना होगा कि कंपनी कितना हेल्थ इंश्योरेंस और मेडिकल फैसिलिटी कवर करती है और उनसे रिलेडेट क्या नियम हैं। यदि आपकी अभी तक शादी नहीं हुई है, तो आप अपनी शादी के बाद के नियमों के बारे में प्रश्न पूछ सकते हैं।  जैसे बच्चा होने के बाद क्या सुविधाएं दी जाएगी और किसी बीमारी के कारण बच्चा हॉस्पिटल में एडमिट हुआ तो कितने रुपये तक के इलाज का भुगतान कंपनी की ओर से किया जा सकेगा।

2. महिलाओं को यह भी स्पष्ट रूप से पूछना चाहिए कि इंश्योरेंस में पारिवारिक कवरेज है या नहीं। साथ ही, क्या वे माता-पिता या ससुराल वालों को भी कवर करते हैं या नहीं? यदि नौकरी में शामिल होने के कुछ वर्षों के बाद किसी की शादी हो जाती है, तो क्या इसमें माता-पिता और ससुराल वालों को शामिल किया जा सकता है? कई बार कंपनियां प्रतिशत के हिसाब से नॉमिनी तय करने का ऑप्शन देती हैं और इसमें दोनों तरफ (मायके और ससुराल) से माता-पिता को भी शामिल करने का ऑप्शन दिया जाता है।

3.  जब एक महिला किसी कंपनी में नौकरी कर रही है, तो उसे इंश्योरेंस सीमा की बढ़ोतरी के बारे में समय- समय पर पूछना चाहिए। नौकरी ज्वाइनिंग के दौरान आप पूछ सकते हैं कि कितने समय के बाद इंश्योरेंस की सीमा बढ़ाई जाएगी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, नियमानुसार बीमा सीटीसी का 8 से 10 गुना होना चाहिए। यानी अगर 20 लाख रुपये का पैकेज है तो 2 करोड़ रुपये का बीमा होना चाहिए। इसमें पर्सनल और ऑफिस इंश्योरेंस दोनों शामिल हैं।ट

4. शादी के बाद मैटरनिटी लीव और इंश्योरेंस के बारे में जरूर पूछे। जिसमें महिलाओं को मैटरनिटी लीव के दौरान मिलने वाली पूरी सैलरी के बारे में विस्तार से चर्चा करनी चाहिए।

5. टर्म इंश्योरेंस या लाइफ इंश्योरेंस: यदि आपके काम में मशीनें शामिल हैं, तो आपको इस बात की स्पष्ट समझ होनी चाहिए कि आपकी इंश्योरेंस स्कीम आपके काम के दौरान होने वाले रिस्क को कवर करती है या नहीं। क्योंकि मशीनों में कभी भी खराबी हो सकती है।

6.  महिला या पुरुष, दोनों कर्मचारियों को पूछना चाहिए कि कंपनी का टर्म इंश्योरेंस एक्सीडेंट को कवर करता है या नहीं और क्या कंपनी के इंश्योरेंस में परमानेंट डिसेबिलिटी के संबंध में कोई प्रावधान है या नहीं?

7. आप पूछ सकते हैं कि  क्या आपकी कंपनी रिटायरमेंट के बाद की स्कीम प्रदान करती है? ये सवाल महिला हो या पुरुष, कोई भी पूछ सकता है कि रिटायरमेंट के बाद यह स्कीम मिलेगी या नहीं।

8. ऑफिस की ओर से इंश्योरेंस में कितना कवरेज दिया जाता है? क्या यह कैश है या कैशलेस? साथ ही, एक महिला को बीमारी की छुट्टियों  के नियमों पर भी चर्चा करनी चाहिए, ताकि महिला की सैलरी न कटे।

 

Virtual Counsellor