DA Image
26 फरवरी, 2020|12:22|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाबरनामा का लेखक कौन है ? सही विकल्प को हाईकोर्ट में चुनौती

baburnama

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ग्राम विकास अधिकारी भर्ती 2016 की लिखित परीक्षा में बाबरनामा के लेखक से जुड़े प्रश्न के सही विकल्प को चुनौती देने वाली याचिका पर अधीनस्थ सेवा चयन आयोग से जवाब मांगा है।

यह आदेश न्यायमूर्ति जेजे मुनीर ने प्रिंस कुमार मिश्र व अन्य की याचिका पर अधिवक्ता सीमांत सिंह को सुनकर दिया है। वीडीओ भर्ती की लिखित परीक्षा के प्रश्न- बाबरनामा का लेखक कौन है के जवाब को लेकर आयोग से जारी दो आंसर-की में अलग-अलग विकल्प को सही माना गया है। कोर्ट ने आयोग को 21 जनवरी तक पूरी जानकारी के साथ पक्ष रखने को कहा है। अधिवक्ता सीमांत सिंह ने कोर्ट को बताया कि ग्राम विकास अधिकारी भर्ती का अंतिम चयन परिणाम 18 जुलाई 2018 को जारी हुआ। याची लिखित परीक्षा में सफल होने के बावजूद चयनित नहीं हो सका। जबकि उसके अंक सामान्य श्रेणी के कट ऑफ मार्क्स के बराबर हैं। इसपर उसने याचिका दाखिल की थी। याचिका पर सुनवाई के दौरान उसे दूसरी संशोधित आंसर-की उपलब्ध कराई गई। आयोग की पहली आंसर-की में चार विकल्पों में बाबरनामा को लेकर पूछे गए विकल्प का याची ने जो जवाब दिया, उसे पहली आंसर-की में सही माना गया। बाद में जारी संशोधित आंसर-की में इसे गलत माना गया। एक प्रश्न का अंक यदि याची मिल जाता है तो वह चयनित हो सकता है। कोर्ट ने आयोग से यह बताने को कहा है कि याची के अंक कट ऑफ मार्क्स के बराबर हैं या नहीं।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Who is the author of baburnama the given right options Challenged in Allahabad high court