DA Image
28 मई, 2020|3:43|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़ा रहे अतिथि शिक्षकों को वेतन का इंतजार

teacher salary hike

सरकारी स्कूलों में पढ़ा रहे अतिथि शिक्षकों को मार्च का वेतन नहीं मिला है। अप्रैल का पहला सप्ताह बीत जाने के बाद वेतन जारी करने की कवायद शुरू होने के चलते इंतजार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में अतिथि शिक्षकों की परेशानियां बढ़नी शुरू हो गई हैं। उन्होंने वेतन जल्द जारी करने की मांग को लेकर उपमुख्यमंत्री को पत्र लिखा है।

दिल्ली के एक हजार से अधिक सरकारी स्कूलों में 20 हजार से अधिक शिक्षक अपनी सेवाएं दे रहे हैं। शिक्षा निदेशालय की तरफ से प्रति दिन के हिसाब से मानदेय दिया जाता है। महीने के अंत में स्कूलों की तरफ से बिल निदेशालय जमा किए जाते हैं। इसके बाद महीने के पहले सप्ताह में वेतन जारी कर दिए जाते हैं। ऑल इंडिया गेस्ट टीचर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी शोएब राणा के अनुसार, 19 अप्रैल तक सभी अतिथि शिक्षकों ने अपनी सेवाएं दी हैं। सरकार ने बंदी के दौरान का भी वेतन अतिथि शिक्षकों को देने की घोषणा की है, लेकिन स्कूलों की तरफ से अभी तक वेतन जारी करने को लेकर कवायद शुरू नही हुई है। इसके कारण स्कूल प्रमुख बंदी का हवाला देते हुए वेतन संबंधी बिल तैयार नहीं कर रहे हैं।

वहीं, कई स्कूल प्रमुख बजट न होने का हवाला देते हुए अतिथि शिक्षकों को वेतन जारी होने में समय लगने की बात कर रहे हैं। इससे इनकी परेशानी बढ़ गई है। वेतन ही आय का एक मात्र स्त्रोत है। अगर वेतन जारी होने में थोड़ी और देर हुई तो रोजी-रोटी का संकट आ सकता है।

 अतिथि शिक्षकों को वेतन दिया गया है। अगर किसी अतिथि शिक्षक को अभी तक वेतन नहीं मिला है, उसके लिए जल्द कार्रवाई होगी। एक दो दिन में सभी को वेतन मिल जाएगा और वेतन जारी होगा। -बिनय भूषण, शिक्षा निदेशक
 
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Waiting for salary for guest teachers teaching in government schools of Delhi