ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरUPTET : यूपीटीईटी में हर जिले में जाएंगे दो सेट पेपर, कौन-सा बंटेगा उसी दिन होगा तय

UPTET : यूपीटीईटी में हर जिले में जाएंगे दो सेट पेपर, कौन-सा बंटेगा उसी दिन होगा तय

UPTET Exam : उत्तर प्रदेश अध्यापक पात्रता परीक्षा ( यूपीटीईटी ) में इस बार दो भिन्न फर्मों ने प्रश्नपत्र तैयार करवाया गया है। वहीं पेपर के भी दो सेट तैयार करवाए गए हैं लेकिन परीक्षा के लिए जिले में...

UPTET : यूपीटीईटी में हर जिले में जाएंगे दो सेट पेपर, कौन-सा बंटेगा उसी दिन होगा तय
विशेष संवाददाता,लखनऊFri, 21 Jan 2022 07:53 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

UPTET Exam : उत्तर प्रदेश अध्यापक पात्रता परीक्षा ( यूपीटीईटी ) में इस बार दो भिन्न फर्मों ने प्रश्नपत्र तैयार करवाया गया है। वहीं पेपर के भी दो सेट तैयार करवाए गए हैं लेकिन परीक्षा के लिए जिले में कौन-सा पेपर सेट कोषागार से निकाला जाएगा, इसकी सूचना परीक्षा के दिन ही दी जाएगी। इस संबंध में प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा दीपक कुमार ने आदेश जारी कर दिया है। टीईटी 23 जनवरी को आयोजित किया जाना है। 

28 नवम्बर 2021 में टीईटी पेपर लीक होने के कारण रद्द कर दिया गया था लेकिन इस बार सरकार व बेसिक शिक्षा विभाग अतिरिक्त सर्तकता बरत रहा है। टीईटी के दोनों पेपर सेट कोषागार में रखे जाएंगे लेकिन परीक्षा के दिन किस पेपर को निकालना है इसकी सूचना परीक्षा नियामक प्राधिकारी द्वारा दी जाएगी। यह अतिरिक्त सतर्कता पेपर लीक होने से बचाने के लिए की जा रही है।
वहीं इस बार पहचान पत्र के रूप में आधार कार्ड भी मान्य होगा। अभी तक ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी, पैनकार्ड व पासपोर्ट को ही पहचान पत्र के रूप में ही मान्य था। 

इस बार प्रदेश स्तर पर दो कंट्रोल रूम बनाए गए हैं। एक कंट्रोल रूम सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी के कार्यालय में बनाया गया है। वहीं दूसरा कंट्रोल रूम गृह विभाग (9454400006/7, 0522-2239295) में होगा।  अभ्यर्थियों को इस बार डेढ़ घंटे पहले परीक्षा केन्द्र पर पहुंचना होगा। परीक्षा शुरू होने के आधे घंटे पहले ही प्रवेश बंद कर दिया जाएगा। प्रश्नपत्र खोलते समय, उत्तरपुस्तकाओं को सील करते समय की वीडियो रिकार्डिंग करवाई जाएगी। हर केन्द्र पर स्टैटिक मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में केन्द्र व्यवस्थापक, पर्यवेक्षक व दो कक्ष निरीक्षकों की मौजूदगी में  प्रश्नपत्र व उत्तरपुस्तिकाएं खोलनी होंगी और उनकी उपस्थिति में ही प्रश्नपत्रों को वितरित कराना होगा। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें