DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UPTET 2018: यूपीटीईटी परीक्षा पर रहेगी STF और विजिलेंस की नजर, ये होंगे इंतजाम

exam

UP TET 2018 : 18 नवंबर को प्रस्तावित शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) 2018 में नकल और बेईमानी रोकने के लिए एसटीएफ और विजिलेंस की टीमों को लगाया गया है। बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में सहायक अध्यापकों के 95 हजार से अधिक पदों पर प्रस्तावित नियुक्ति से पहले हो रहे टीईटी को लेकर खास सतर्कता बरती जा रही है।

अपर मुख्य सचिव डॉ. प्रभात कुमार ने 29 अक्तूबर और 2 नवंबर को क्रमश: सभी कमिश्नर व जिलाधिकारियों को पत्र लिखकर नकल विहीन परीक्षा कराने के निर्देश दिए हैं। परीक्षा केंद्र पर अभ्यर्थियों के साथ-साथ कक्ष निरीक्षक तथा अन्य किसी भी कर्मचारी को मोबाइल, नोटबुक या अन्य कोई यांत्रिक या इलेक्ट्रानिक डिवाइस ले जाने की अनुमति नहीं है।

परीक्षा कक्ष में प्रवेश के लिए अभ्यर्थियों को प्रवेश पत्र के साथ ऑनलाइन आवेदन में अंकित पहचान पत्र (ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, पासपोर्ट, वोटर आईकार्ड) की मूल प्रति तथा प्रशिक्षण योग्यता के प्रमाणपत्र अथवा किसी भी सेमेस्टर की निर्गत अंकपत्र की मूल प्रति या संबंधित प्रशिक्षण संस्था के रजिस्ट्रार/सक्षम अधिकारी से इंटरनेट से प्राप्त अंकपत्र की प्रमाणित प्रति अनिवार्य रूप से दिखानी होगी।

UPTET Exam 2018: परीक्षा केंद्र निर्धारण ने उड़ा दी नींद

प्राथमिक स्तर की परीक्षा के लिए 2070 जबकि उच्च प्राथमिक के 1051 केंद्र बनाए गए हैं। पहली पाली की परीक्षा 10 से 12.30 जबकि दूसरी पाली का पेपर 2.30 से 5 बजे तक होगा। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय एलनगंज की ओर से 11 नवंबर को अभ्यर्थियों के फोटोयुक्त पत्रक केंद्र व्यवस्थापकों को उपलब्ध कराए जाएंगे।

UPTET 2018: ओवरराइटिंग कटिंग पर नहीं जंचेगी यूपीटीईटी की कॉपी

इस बार हुआ बदलाव
-राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) की नवीन अधिसूचना के मुताबिक प्राथमिक स्तर की परीक्षा में बीएड डिग्रीधारियों को अवसर दिया गया।
-प्रश्नों को लेकर होने वाले विवादों से बचने के लिए कक्षा एक से आठ तक की परिषदीय पुस्तकों की विषयवस्तु पर आधारित प्रश्न पूछे जाएंगे। हालांकि प्रश्नों की कठिनाई का स्तर कक्षा 12 तक का होगा।
-शिक्षामित्रों के लिए ऑनलाइन आवेदन में इस बार अलग से कॉलम बनाया गया है।
-एनसीटीई से मान्यता प्राप्त दूसरे राज्यों के संस्थानों से डीएलएड या अन्य कोर्स करने वाले अभ्यर्थियों को भी मौका दिया गया है।

UPTET 2018: नवनियुक्त शिक्षक नहीं दे पाएंगे यूपी टीईटी, जानिए वजह

आंकड़ों पर एक नजर
टीईटी-18 के लिए 1827851 अभ्यर्थियों ने कराया था पंजीकरण
-विभिन्न कारणों से 44135 के फार्म निरस्त हो गए
-प्राथमिक स्तर की परीक्षा के लिए 1170786 आवेदक
-उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा के लिए 612930 को प्रवेश पत्र जारी

इनका कहना है
अनिल भूषण चतुर्वेदी (सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी) ने कहा- टीईटी 2018 को लेकर खास सतर्कता बरती जा रही है। प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर प्रत्येक पाली के लिए अलग-अलग स्टैटिक मजिस्ट्रेट को लगाया जाएगा जो कोषागार के डबल लॉक से प्रश्नपत्र को लेकर परीक्षा केंद्र पर जाएंगे। स्टैटिक मजिस्ट्रेट अपनी निगरानी में केंद्र व्यवस्थापक, दो कक्ष निरीक्षकों व पर्यवेक्षक के सामने पेपर खुलवाएंगे जिसकी वीडियो रिकार्डिंग भी कराई जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:uptet 2018: stf and vigilance will keep close eye on up tet exam to prevent cheating