DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UPTET 2018: नवनियुक्त शिक्षक नहीं दे पाएंगे यूपी टीईटी, जानिए वजह

Shiksha Mitra, uptet, up tet, Supreme court,

UPTET 2018: इस बार नवनियुक्त शिक्षक नहीं दे पाएंगे यूपी टीईटी परीक्षा में नहीं बैठ पाएंगे। दरअसल 68500 भर्ती में चयनित शिक्षकों के दस्तावेज बीएसए कार्यालय में जमा है। जबकि यूपी टीईटी में शामिल होने के लिए प्रशिक्षण योग्यता का मूल प्रमाण पत्र दिखाना होगा। चयनित प्राथमिक स्कूलों के शिक्षकों को उच्च प्राथमिक स्कूलों में प्रमोशन के टीईटी पास की योग्यता चाहिए इसलिए बड़ी तादाद में नवनियुक्त शिक्षकों ने टीईटी का फार्म भरा है। 

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी-टीईटी) 2018 18 नवंबर को 10 से 12.30 बजे तक (प्राथमिक) और 2.30 से 5 बजे तक (उच्च प्राथमिक) होगी। 

इस बार 17.80 लाख अभ्यर्थी परीक्षा दे रहे हैं। 

UPTET Admit Card 2018: यूपीटीईटी एडमिट कार्ड जारी, 3 Steps में देखें

ओवरराइटिंग कटिंग पर नहीं जंचेगी यूपीटीईटी की कॉपी
यूपीटीईटी की ओएमआर शीट पर ओवरराइटिंग या कटिंग करने पर कॉपी नहीं जंचेगी। ओएमआर शीट का मूल्यांकन स्कैनर से किया जाएगा। लिहाजा ओवरराइटिंग, कटिंग या एक से अधिक गोला काला करने, किसी गोले को पूरा काला नहीं करने, गोले पर कोई अन्य निशान बनाने पर या सफेदा लगाने पर मूल्यांकन नहीं होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UPTET 2018: newly appointed teachers can not appear in up tet exam