DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UPTET 2018 के विवादित प्रश्नों की अपील पर फैसला सुरक्षित

UPTET 2018: इलाहाबाद हाईकोर्ट ने शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) 2018 के 15 विवादित प्रश्नों को लेकर दाखिल विशेष अपील पर शुक्रवार को निर्णय सुरक्षित कर लिया। खास यह कि कोर्ट अपना फैसला शनिवार को सुनाएगी।

यह आदेश न्यायमूर्ति पंकज मित्तल एवं न्यायमूर्ति रोहित रंजन अग्रवाल की खंडपीठ ने हिमांशु गंगवार सहित कई अन्य की याचिकाओं पर सुनवाई के बाद दिया। इन 15 प्रश्नों में से केवल दो प्रश्नों को ही एकल पीठ ने विशेषज्ञ राज के लिए रेफर किया था। इसे विशेष अपील में चुनौती दी गई है। 

शिक्षक भर्ती: परीक्षा में 2017 के कई अभ्यर्थियों को बैठने देने का आदेश

याचियों की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अशोक खरे और अधिवक्ता सीमांत सिंह का कहना था कि परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से जारी आंसर-की से मिलान करने पर 15 प्रश्नों के उत्तर गलत पाए गए। इसे लेकर याचिका दाखिल हुई लेकिन एकल पीठ ने संस्कृत और उर्दू के एक-एक प्रश्न को विशेषज्ञ राज के लिए इलाहाबाद विश्वविद्यालय भेजा। शेष 13 प्रश्नों के उत्तरों पर कोर्ट ने परीक्षा नियामक प्राधिकारी के विशेषज्ञों की राय मान ली। 

69000 शिक्षक भर्ती: परीक्षा कल, नकल रोकने के लिए किए गए ये इंतजाम

वरिष्ठ अधिवक्ता अशोक खरे व एडवोकेट सीमांत सिंह का कहना था कि सुप्रीम कोर्ट का आदेश है कि जिन प्रश्नों पर विवाद हो, उन्हें विशेषज्ञ राय के लिए भेजा जाना चाहिए। इसके अलावा एक प्रश्न पाठ्यक्रम से बाहर का था। कहा गया कि करेंट अफेयर्स का प्रश्न पूछ लिया गया जबकि करेंट अफेयर्स टीईटी के पाठ्यक्रम में ही नहीं है। कोर्ट ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद निर्णय सुरक्षित कर लिया, जो शनिवार को आएगा। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:uptet 2018: know about court order on disputed up tet questions