DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UPTET 2018: परीक्षा आज, जानें परीक्षा केंद्र में क्या ले जाएं और क्या नहीं, पढ़ें सभी जरूरी जानकारी और नियम

uptet 2018

UP TET 2018: एग्जाम आज, परीक्षा केंद्र जाने से पहले पढ़ लें ये 10 अनिवार्य नियम

UP TET 2018: उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा ( यूपी टीईटी 2018 ) का आयोजन आज 18 नवंबर को होगा। परीक्षा में किसी भी तरह की गड़बड़ी न हो, इसके लिए फुलप्रूफ व्यवस्था की गई है। परीक्षा शुरू होने के 45 मिनट पहले ही परीक्षा केंद्र का गेट खोला जाएगा। 

एक छोटी सी गलती टीईटी-18 से कर देगी आउट

आज 18 नवंबर को होने जा रही शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) में एक छोटी सी गलती आपको आउट कर सकती है। बेसिक शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. प्रभात कुमार की ओर से इस संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। सबसे महत्वपूर्ण परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए आवश्यक दस्तावेज साथ ले जाना न भूलें।

UPTET 2018: व्हाइटनर लगा तो नहीं जांची जाएगी ओएमआर शीट

आज 18 नवंबर को होने जा रही शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी-2018) में सफेदा(व्हाइटनर) लगाया तो उत्तर पत्रक के रूप में मिली ओएमआर शीट नहीं जांची जाएगी। यानि सफेदा लगाने की एक गलती पूरी मेहनत पर पानी फेर देगी। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण चतुर्वेदी की ओर से जारी निर्देश में लिखा है कि ओएमआर शीट पर अशुद्ध लिखने के बाद सफेदा (करेक्टिव फ्लुइड या व्हाइटनर) का प्रयोग कभी न करें। ऐसा होने पर ओएमआर शीट निरस्त कर दी जाएगी। ताकि किसी प्रकार का विवाद न होने पाए। 

UPTET 2018: परीक्षा आज, जानें उत्तर प्रदेश टीईटी परीक्षा से जुड़ी ये 10 बड़ी बातें

UPTET 2018: उत्तर प्रदेश पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) आज आयोजित होगी। आज होने जा रही शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) 2018 के प्राथमिक स्तर के पेपर में सात साल के अंतराल के बाद बीएड डिग्रीधारी सम्मिलित होंगे। परीक्षा केंद्र के लिए निकलने से पहले ऐसी कई अहम बातें हैं जो कि उम्मीदवारों को पता होनी चाहिए। टीईटी के दौरान परीक्षा केंद्रों के गेट पर वीडियो रिकार्डिंग की जाएगी। परीक्षा में किसी भी तरह की गड़बड़ी न हो, इसके लिए फुलप्रूफ व्यवस्था की गई है। परीक्षा शुरू होने के 45 मिनट पहले ही परीक्षा केंद्र का गेट खोला जाएगा। 

UPTET 2018 आज, 7 साल बाद प्राथमिक स्तर का टीईटी देंगे B.Ed वाले

UPTET 2018: आज होने जा रही शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) 2018 के प्राथमिक स्तर के पेपर में सात साल के अंतराल के बाद बीएड डिग्रीधारी सम्मिलित होंगे। अप्रैल 2010 में नि:शुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार कानून लागू होने के बाद राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) ने उत्तर प्रदेश सरकार को 2011 में प्राथमिक स्कूलों में हुई 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती में आखिरी बार बीएड डिग्रीधारियों को शामिल करने की अनुमति दी थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UPTET 2018 Exam today read all the necessary information and rules about UPTET Exam