UPTET 2018: 2 lakh 50 thousand candidates could not apply successfully due to website upbasiceduboard gov in crash - UPTET 2018: वेबसाइट क्रैश होने से ढाई लाख अभ्यर्थियों के फार्म फंसे DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UPTET 2018: वेबसाइट क्रैश होने से ढाई लाख अभ्यर्थियों के फार्म फंसे

uptet latest news in hindi today, upbasiceduboard.gov.in

uptet 2018 , upbasiceduboard.gov.in : उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी-टीईटी) 2018 के ढाई लाख फार्म फंस गये हैं। पिछले पांच दिनों से वेबसाइट क्रैश होने के कारण घंटों प्रयास के बावजूद अभ्यर्थी फार्म नहीं भर सके हैं। हालत यह है कि अभ्यर्थियों के खाते से दो-तीन फीस का रुपया कट चुका है लेकिन फार्म सबमिट नहीं हो रहा। प्रिंट नहीं निकलने के कारण अभ्यर्थी परेशान हैं।

परीक्षा नियामक प्राधिकारी को मिली सूचना के मुताबिक, पांच लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। लेकिन अब तक बमुश्किल लाख फार्म ही अंतिम रूप से जमा हो सके हैं। 50 हजार पंजीकरण फर्जी भी मान लिया जाए तो कम से कम ढाई लाख अभ्यर्थी ऐसे हैं जो ऑनलाइन आवेदन पत्र पूरा नहीं कर सके हैं।

स्टेट डाटा सेंटर का सर्वर और एनआईसी की वेबसाइट ओवरलोड होने के कारण बैठ गई है। जिस निजी बैंक से ऑनलाइन फीस जमा करने की व्यवस्था की गई है, वह भी काम नहीं कर रहा। यूनिवर्सिटी रोड और कटरा आदि इलाकों के साइबर कैफे पर दिनभर भीड़ लगी है। कई अभ्यर्थी पूरी-पूरी रात फार्म भरने की कोशिश रहे हैं लेकिन सफलता नहीं मिल रही।

रूबी श्रीवास्तव पिछले तीन दिनों से फार्म भरने की कोशिश कर रही हैं लेकिन सफलता नहीं मिल रही। जगमल का हाता राजरूपपुर की रहने वाली अचला शर्मा भी सोमवार से कोशिश कर रही हैं लेकिन वेबसाइट काम नहीं कर रही। फरहीन सिद्दीकी का कहना है कि चार दिन से करेली से लेकर कटरा तक के साइबर कैफे का चक्कर काट रही हैं लेकिन टीईटी का फार्म नहीं भरा जा सका।

टीईटी-18 के लिए 18 सितंबर से ऑनलाइन आवेदन शुरू हुए हैं। पंजीकरण की अंतिम तिथि चार अक्टूबर शाम छह बजे तक है। आवेदन शुल्क पांच अक्टूबर तक स्वीकार किए जाएंगे। पूर्ण रूप से भरे हुए ऑनलाइन आवेदन के प्रिंट लेने की आखिरी तारीख छह अक्टूबर शाम छह बजे तक रखी गई है। पंजीकरण के बाद प्रिंट निकालने पर कई लोगों के फार्म खाली निकल रहे हैं।

एनआईसी की मदद को भेजे अधिकारी व कर्मचारी
टीईटी-18 के आवेदन को लेकर हो रही समस्या पर गुरुवार को अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा डॉ. प्रभात कुमार की अध्यक्षता में लखनऊ में बैठक हुई। मामले की गंभीरता को देखते हुए अपर मुख्य सचिव ने इसे जल्द सुलझाने को कहा। इसके बाद सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण चतुर्वेदी ने एक डिप्टी रजिस्ट्रार और एक कम्प्यूटर एक्सपर्ट को एनआईसी लखनऊ भेज दिया ताकि जो समस्या आ रही है उसे दूर किया जा सके।

सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण चतुर्वेदी ने कहा - वेबसाइट पर लोड अधिक होने के कारण समस्या हो रही है। एनआईसी की टीम लगी है। हमारे लोग भी मदद के लिए लखनऊ गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UPTET 2018: 2 lakh 50 thousand candidates could not apply successfully due to website upbasiceduboard gov in crash