ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरUPSSSC PET : 15-16 अक्टूबर को मेरठ आएंगे 1.18 लाख छात्र, लोकल अभ्यर्थियों को जाना होगा 200 किमी दूर

UPSSSC PET : 15-16 अक्टूबर को मेरठ आएंगे 1.18 लाख छात्र, लोकल अभ्यर्थियों को जाना होगा 200 किमी दूर

UPSSSC PET : 15-16 अक्टूबर को दो पालियों में प्रस्तावित उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) में मेरठ में दो दिनों में एक लाख 18 हजार विद्यार्थी पेपर देने पहुंचेंगे।

UPSSSC PET : 15-16 अक्टूबर को मेरठ आएंगे 1.18 लाख छात्र, लोकल अभ्यर्थियों को जाना होगा 200 किमी दूर
Pankaj Vijayप्रमुख संवाददाता,मेरठFri, 07 Oct 2022 07:24 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

UPSSSC PET : 15-16 अक्टूबर को दो पालियों में प्रस्तावित उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) में मेरठ में दो दिनों में एक लाख 18 हजार विद्यार्थी पेपर देने पहुंचेंगे। 56 केंद्रों पर प्रस्तावित इस परीक्षा में अधिकांश छात्र बाहरी जिलों के होंगे। मेरठ के विद्यार्थियों को 100 से 200 किमी दूर पेपर देने जाना होगा। अधिकांश विद्यार्थियों के सेंटर सहारनपुर, मुजफ्फरनगर सहित आसपास के जिलों में हैं। परीक्षा 10-12 और तीन से पांच बजे तक दो पालियों में होगी। 16 अक्तूबर को सीसीएसयू का एमएड-एलएलएम एंट्रेंस भी प्रस्तावित है। इस टेस्ट में भी 57 सौ परीक्षार्थी शामिल होंगे। 

छात्रों ने की निशुल्क यात्रा की मांग
गृह जनपद से दूर अन्य जिलों में पीईटी परीक्षा केंद्र बनने पर छात्र-छात्राओं ने अतिरिक्त बस चलाने और निशुल्क यात्रा की मांग की है। विनीत चपराना एवं अंकित अधााना द्वारा मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन के अनुसार छात्रों के केंद्र दो सौ किमी दूर अन्य शहरों में बनाए गए हैं। प्रदेशभर से छात्र-छात्राओं को अपने जिलों से दूर अन्य जिलों में जाना होगा। छात्रों के अनुसार शासन को विभिन्न शहरों में अतिरिक्त बस चलाई जानी चाहिए। प्रवेश पत्र के आधार पर बसों में निशुल्क यात्रा की मांग की। छात्रों के अनुसार उन्होंने आयोग को फीस दी है। ऐसे में दो सौ किमी यात्रा का अतिरिक्त खर्चा छात्रों पर ना डाला जाए। 

UPSSSC PET 2022: क्या बदलेंगे यूपी पीईटी के परीक्षा केंद्र, योगी सरकार से ये शिकायतें कर रहे अभ्यर्थी

दिसंबर में नैक, जनवरी में दीक्षांत की उम्मीद
विवि कैंपस में दिसंबर में नैक और जनवरी में दीक्षांत समारोह की उम्मीद है। विवि ने दीक्षांत और नैक दोनों की तैयारियों को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है। राजभवन जल्द ही विवि में दीक्षांत समारोह की तिथियों पर अंतिम मुहर लगा देगा। नैक में भी विवि ने अपनी अंतिम रिपोर्ट सब्मिट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। उम्मीद है कि दिसंबर में नैक की टीम कैंपस में निरीक्षण के लिए विवि पहुंचे। 

epaper