ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरUPSC : प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते समय प्लान बी जरूर चुनें

UPSC : प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते समय प्लान बी जरूर चुनें

choose plan B तौर विशेषज्ञ आकार आईएएस की संस्थापक और कॅरियर काउंसलर पल्लवी सिंह उपस्थित रहीं। उन्होंने यूपीएससी की तैयारी कैसे करें, पीसीएम स्ट्रीम से 12वीं करने के बाद किन-किन क्षेत्रों में कॅरियर वि

UPSC : प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते समय प्लान बी जरूर चुनें
upsc prelims admit card
Anuradha Pandeyसंवाददाता,लखनऊSat, 15 Jun 2024 07:29 AM
ऐप पर पढ़ें

काउंसलर पल्लवी सिंह ने बताया कि कि यूपीएससी की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों को सिलेबस जरूर समझना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसा न करने वाले तमाम तरह की किताबें लाकर कमरे को लाइब्रेरी बना देते हैं। जरूरी यह नहीं है कि हम 100 फीसदी पढ़ें। जरूरी यह है कि हमें 50 प्रतिशत का भी 100 फीसदी आना चाहिए। शहर के विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में दाखिले की दौड़ शुरू हो गई है। ऐसे में इंटरमीडिएट पास छात्र-छात्राओं और उनके अभिभावकों को कॅरियर चुनने में कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उनकी उलझन को समझते हुए ‘हिन्दुस्तान’ ने शुक्रवार को ‘हिन्दुस्तान फोन इन’ का आयोजन किया। बतौर विशेषज्ञ आकार आईएएस की संस्थापक और कॅरियर काउंसलर पल्लवी सिंह उपस्थित रहीं। उन्होंने यूपीएससी की तैयारी कैसे करें, पीसीएम स्ट्रीम से 12वीं करने के बाद किन-किन क्षेत्रों में कॅरियर विकल्प रहता है, प्रायोगिक परीक्षाओं की तैयारी करते समय प्लान बी कैसे चुनें... जैसे प्रश्नों के जवाब देकर युवाओं और उनके अभिभावकों को मार्गदर्शन प्रदान किया।

बीए किया है। आगे चलकर शिक्षक बनना चाहती हूं, क्या करूं? दिव्या मिश्रा, लखनऊ

● बीएड कर सकती हैं। उसके बाद सीटीईटी या टीजीटी व पीजीटी परीक्षा पास कर शिक्षक बनने की राह में आगे बढ़ सकेंगी। वहीं यदि विश्वविद्यालय या अन्य किसी उच्च शिक्षण संस्थान में पढ़ाना चाहती हैं तो बीए के बाद एमए करें। उसके बाद नेट-जेआरएफ परीक्षा पास कर पीएचडी कर सकती हैं।

● सिलेबस को अच्छी तरह से समझ लें। उसका एनालिसिस कर लें। किसी मेंटरशिप प्रोग्राम को भी जॉइन कर सकते हैं।

1. कॅरियर का चयन करने से पहले मेंटरशिप प्रोग्राम को जरूर आजमाना चाहिए। इससे उपयुक्त कॅरियर चुनने में मदद मिलेगी।

2. यूपीएससी या यूपीपीएससी की तैयारी करने से पहले सिलेबस को अच्छी तरह से समझ लें।

3. प्रायोगिक परीक्षा की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों को हमेशा प्लान बी तैयार रखना चाहिए।

4. ऑनलाइन पढ़ाई करने वाले विद्यार्थी ऑफलाइन सहायता देने वाले संस्थान का चयन करें।

5. आज के दौर में नीट और आईआईटी जेईई की तैयारी करने वाले छात्रों को स्कूल जरूर जाना चाहिए। इससे उनके सोचने समझने की क्षमता बढ़ेगी। दोस्त बनेंगे। आपसी समझ बेहतर होगी। साथ ही व्यक्तित्व का विकास भी होगा।

 

Virtual Counsellor