ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरUPSC Topper : अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी कुहू ने यूपीएससी में मारा मैदान, सपने को साकार किया

UPSC Topper : अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी कुहू ने यूपीएससी में मारा मैदान, सपने को साकार किया

International player Kuhoo excelled in UPSC संघ लोक सेवा आयोग ने फाइनल रिजल्ट जारी किया। अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी और पूर्व डीजीपी अशोक कुमार की बेटी कुहू गर्ग ने अपने पहले ही प्रयास में यूपीएससी

UPSC Topper : अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी कुहू ने यूपीएससी में मारा मैदान, सपने को साकार किया
Anuradha Pandeyवरिष्ठ संवाददाता,देहरादूनWed, 17 Apr 2024 02:28 PM
ऐप पर पढ़ें

संघ लोक सेवा आयोग ने फाइनल रिजल्ट जारी किया। अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी और पूर्व डीजीपी अशोक कुमार की बेटी कुहू गर्ग ने अपने पहले ही प्रयास में यूपीएससी में 178वीं रैंक पाई। कुहू की शुरुआती पढ़ाई देहरादून के ब्राइटलैंड और वेल्हम गर्ल्स स्कूल से हुई। इसके बाद स्नातक की पढ़ाई दिल्ली के एसआरसीसी कॉलेज से पूरी की। कुहू ने बैडमिंटन में एशियाई चैंपियनशिप के साथ ओपन श्रेणी के कई मेडल अपने नाम किए हैं। उन्होंने बैडमिंटन खिलाड़ी चिराग सेन के साथ मिलकर ओपन श्रेणी के कई मेडल जीते। उनके पिता अशोक कुमार उत्ताखंड कॉडर के आईपीएस रहे और डीजीपी पद से रिटायर होकर राईं खेल विवि हरियाणा के कुलपति बने हैं। मां डॉ. अलकनंदा अशोक पंतनगर विवि में डीन हैं। इधर, पूर्व डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि ओपन कैटेगिरी में वर्ल्ड चैंपियनशिप का क्वार्टर फाइनल खेलने वाली कुहू गर्ग पहली खिलाड़ी होंगी, जो कि आईएएस या आईपीएस अफसर बन पाई हैं।

पूर्व डीजीपी अशोक कुमार की बेटी ने पाई 178वीं रैंक
कुहू ने बताया कि वे बैडमिंटन से पिछले करीब 15-16 साल से जुड़ी हैं। यह उनका पैशन है। लेकिन बचपन से पिता को वर्दी में देख उनको दिल के किसी कोने में आईपीएस बनने की ललक थी। पर, खेल में इतनी व्यस्त हो गई थीं कि पढ़ाई का समय कम ही मिलता था। कोविड के दौरान लॉकडाउन लगा तो मौका मिल गया। एक-डेढ़ साल पढ़ाई की। इसके बाद स्वास्थ्य कारणों के चलते खेल कुछ समय के लिए छोड़ना पड़ गया था।

कुहू ने कहा-मौका मिला तो खेल से भी करेंगी देश सेवा

कुहू ने कहा कि खेल हमेशा से पैशन रहा है और रहेगा। नौकरी में रहते हुए अगर खेलने का मौका मिला तो जरूर खेलेंगी। वे खेल से भी देश-समाज की सेवा करती रहेंगी। कुहू ने अपने खेल से 34वीं श्रेष्ठ वर्ल्ड रैंकिंग के साथ देश की नंबर वन रैंक भी हासिल की है। वर्ष 2018 में वह वर्ल्ड चैंपियनशिप खेल चुकी हैं। वर्ष 2018 एवं 2019 में एशियन चैंपियनशिप, 2013 एवं 2016 तक वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप खेल चुकी हैं। उनके खाते में 19 अंतरराष्ट्रीय और 56 नेशनल मेडल दर्ज हैं। 

Virtual Counsellor