ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरUPSC प्रीलिम्स से 90 दिन पहले,हिंदी मीडियम के उम्मीदवारों के लिए IAS अधिकारी कृतिका मिश्रा ने शेयर की किताबों की लिस्ट

UPSC प्रीलिम्स से 90 दिन पहले,हिंदी मीडियम के उम्मीदवारों के लिए IAS अधिकारी कृतिका मिश्रा ने शेयर की किताबों की लिस्ट

हिंदी मीडियम के छात्र हैं और इस साल 26 मई को यूपीएससी सीएसई की प्रारंभिक परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं तो यहां हम आपको बता दें, IAS अधिकारी कृतिका मिश्रा ने हिंदी मीडियम के छात्रों के लिए कुछ कि

UPSC प्रीलिम्स से 90 दिन पहले,हिंदी मीडियम के उम्मीदवारों के लिए IAS अधिकारी कृतिका मिश्रा ने शेयर की किताबों की लिस्ट
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 26 Feb 2024 08:54 PM
ऐप पर पढ़ें

UPSC Civil Services 2024: यूपीएससी सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2024 के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 5 मार्च 2024 तक चलेगी। इस साल प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन 26 मई 2024 को किया जाएगा। जो उम्मीदवार इस परीक्षा में शामिल होंगे, उनके लिए IAS अधिकारी कृतिका मिश्रा ने परीक्षा शुरू होने से 90 दिन पहले कुछ किताबों की लिस्ट शेयर की है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर की रहने वाली IAS कृतिका मिश्रा ने यूपीएससी परीक्षा 2022 में 66वीं रैंक हासिल की थी। ​​यूपीएससी की परीक्षा उन्होंने हिंदी मीडियम से दी थी और साल 2022 में वह यूपीएससी हिंदी मीडियम टॉपर्स की लिस्ट में शामिल हुई थी।

IAS कृतिका मिश्रा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर काफी एक्टिव रहती हैं। 25 फरवरी को उन्होंने इंस्टाग्राम पर इस साल प्रारंभिक परीक्षा में शामिल होने जा रहे उम्मीदवार, खासतौर पर हिंदी मीडियम के उम्मीदवारों के लिए किताबों की लिस्ट शेयर करते हुए एक पोस्ट लिखा है, "UPSC प्रारंभिक परीक्षा के मात्र 91 दिन बचे हैं। उम्मीदवारों के लिए प्रारंभिक परीक्षा की किताबों की लिस्ट शेयर कर रही हूं। ये किताबें आपकी अंतिम तैयारी में मदद कर सकती है। ये किताबों की लिस्ट ना तो अंतिम है और ना ही बेस्ट। जहां आपको स्रोत ना मिल पा रहा है, वहां इसे फॉलो कर सकते हैं और अपने अनुसार परिवर्तन भी कर सकते हैं। हिंदी मीडियम का प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम इस वर्ष सर्वोत्तम रहे मेरी शुभकामनाएं"

 

अक्सर हिंदी मीडियम के छात्रों को स्टडी मैटेरियल के लिए काफी परेशानी उठानी पड़ती है, वहीं IAS कृतिका की ओर से शेयर की गई किताबों के लिस्ट इन उम्मीदवारों के काम आ सकती है। आपको बता दें, यूपीएससी परीक्षा के लिए एक रणनीति बनाना अनिवार्य है। जो उम्मीदवार इस साल प्रारंभिक परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं, उन्हें सलाह दी जाती है, वह पिछले वर्षों के प्रश्नों (PYQs) का विश्लेषण करके शुरुआत करें। इससे उम्मीदवारों को परीक्षा पैटर्न को समझने और उसके अनुसार विषयों की पढ़ाई करने में मदद मिलती है।

Virtual Counsellor