ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरIPS पद पर सिलेक्ट होने के बाद रो रहे थे आदित्य श्रीवास्तव, नहीं खाया था खाना, माता- पिता ने खोले UPSC टॉपर के राज

IPS पद पर सिलेक्ट होने के बाद रो रहे थे आदित्य श्रीवास्तव, नहीं खाया था खाना, माता- पिता ने खोले UPSC टॉपर के राज

UPSC CSE Result 2023: लखनऊ के आदित्य श्रीवास्तव ने यूपीएससी सीएसई परीक्षा में पहला स्थान हासिल किया है। बेटे की इस उपलब्धि पर उनके माता- पिता काफी खुश हैं। जानें माता पिता ने उनके बारे में क्या कहा।

IPS पद पर सिलेक्ट होने के बाद रो रहे थे आदित्य श्रीवास्तव, नहीं खाया था खाना, माता- पिता ने खोले UPSC टॉपर के राज
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 16 Apr 2024 10:18 PM
ऐप पर पढ़ें

UPSC CSE Topper Aditya Srivastava: यूपीएससी ने आज सिविल सेवा परीक्षा 2023 रिजल्ट घोषित कर दिया। यूपीएससी सीएसई परिणाम लिंक upsconline.nic.in और upsc.gov.in पर एक्टिव  है। इस साल लखनऊ के आदित्य श्रीवास्तव ने ऑल ओवर इंडिया में पहली रैंक हासिल की है। बता दें, उन्होंने यूपीएससी सीएसई 2022 परीक्षा में 136वीं रैंक हासिल की थी और  IPS के पद के लिए चुने गए थे। आदित्य श्रीवास्तव में अपने तीसरे प्रयास में IAS अधिकारी बनने का सपना साकार किया है। आइए जानते हैं उनके माता- पिता ने अपने बेटे के बारे में क्या कहा और आदित्य ने कैसे की थी तैयारी।

UPSC Civil Services Final Result 2023- देखें डायरेक्ट लिंक

आदित्य की मां आभा श्रीवास्तव रांची की रहने वाली हैं और पिता मूलतः लखनऊ के रहने वाले हैं। मां ने बताया, बेटे की रैंक 1 आने पर खुशी है, लेकिन यकीन नहीं हो रहा है कि बेटे की रैंक 1 आई है, क्योंकि इस परीक्षा में रैंक 1 आना आसान नहीं है। उन्होंने बताया, अभी बेटा हैदराबाद में है और 22 अप्रैल को घर लौटेगा। उसे पश्चिम बंगाल कैडर अलॉट हुआ है। मां ने आगे कहा, बेटे का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है, जोरदार तरीके से स्वागत किया जाएगा।

IPS पद पर चयन के बाद रो रहे थे आदित्य

मां ने आगे कहा,  आदित्य का बचपन से पढ़ाई-लिखाई में मन लगता था। यूपीएससी की तैयारी के दौरान उसने सोशल मीडिया और खेलकूद से दूरी बना कर रखी थी। बता दें, आदित्य ने दूसरे प्रयास में साल 2022 में पहली बार यूपीएससी सीएसई की परीक्षा पास की थी, जिसमें उनका चयन IPS पद के लिए हुआ था। मां ने कहा, जब आदित्य का चयन IPS पद के लिए हुआ था, उस समय वह रो रहा था और खाना नहीं खाया था। मेरे खाना देने और मनाने के बाद खाना खाया था।

मां ने कहा, यूपीएससी का रिजल्ट आ गया है अब बेटे का इंतजार किया जा रहा है। बेटे के आने के बाद उसे चन्द्रिका देवी समेत शहर के कई मंदिरों में लेकर जाऊंगी।

आदित्य से घरवालों की काफी उम्मीदें हैं, आज वे सभी उम्मीदों को पूरा करने में कामयाब रहें। उनकी आठ साल छोटी बहन ने उन्हें एक पेन देते हुए कहा था कि, 'भईया इस बार इस पेन से पेपर देना'

कैसे की थी आदित्य ने तैयारी, ये था स्टडी प्लान

आदित्य के पिता अजय कुमार ने बताया, यूपीएससी सीएसई कठिन परीक्षाओं में से एक हैं, हालांकि आदित्य ने इस परीक्षा की तैयारी के लिए किसी भी तरह की कोचिंग सेंटर की मदद नहीं ली। उसने सेल्फ स्टडी के दम पर इस परीक्षा में सफलता हासिल की है। बता दें, आदित्य ने जेईई क्रैक कर आईआईटी कानपुर में एडमिशन लिया था। जहां से उन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री ली।

बता दें, आदित्य दिन में 10 से 12 घंटे रेगुलर पढ़ाई कियाा करते थे। पिता ने बताया, बेटे को क्रिकेट बहुत पसंद है, समय मिलने पर वह क्रिकेट खेलता और देखता था। वहीं वह अपनी तैयारी को लेकर पूरी तरह से फोकस था, उसके ज्यादा दोस्त वैगरह नहीं हैं।

पिता ने आगे कहा, बेटे की मेहनत देखते हुए उम्मीद थी कि उसका नाम टॉप- 50 की लिस्ट में शामिल होगा, लेकिन बेटे की रैंक 1 आ गई। इससे ज्यादा खुशी का बात क्या हो सकती है।

आदित्य ने साल 2021 में सालाना 40 लाख रुपये पैकेज की नौकरी छोड़कर यूपीएससी की तैयारी करना शुरू की थी। पहले उन्होंने नौकरी के साथ यूपीएसी की तैयारी शुरू की, लेकिन अच्छे से तैयारी ने होने के कारण वह परीक्षा में असफल रहे, जिसके बाद उन्होंने नौकरी छोड़कर यूपीएससी सीएसई की परीक्षा तैयारी करने करने का फैसला किया।

 

 

Virtual Counsellor