DA Image
30 मई, 2020|5:08|IST

अगली स्टोरी

UPSC IAS 2020 की तैयारी: लॉकडाउन से पढ़ाई पर कितना पड़ा असर, जानें क्या बोले यूपीएससी उम्मीदवार

upsc

UPSC सिविल सेवा परीक्षा पास कर IAS और IPS बनाना इस देश के लाखों युवाओं का सपना होता है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के मुखर्जी नगर, नेहरु विहार, गांधी विहार, कटवरिया सराय, बेर सराय जैसे इलाकों में स्थित हॉस्टलों और छोटे छोटे कमरों में किराये पर रहते हुए ऐसे हजारों युवा आपको नजर आ जाएंगे जो यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा पास करने का सपना संजोए जीतोड़ मेहनत में जुटे रहते हैं। इस बार यूपीएससी सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 का आयोजन 31 मई को होगा। अब सवाल है कि एग्जाम में दो महीने पहले हुए लॉकडाउन और कोरोना वायरस की मार ने यूपीएससी अभ्यर्थियों की तैयारी पर कितना असर डाला है? उत्तरी दिल्ली के मुखर्जी नगर में यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों का कहना है कि लॉकडाउन की स्थिति में उन्हें सेल्फ स्टडी का ज्यादा समय मिल गया है। 

अभ्यर्थियों ने कहा कि वह कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए लॉकडाउन के फैसले के साथ हैं। उन्होंने कहा कि यह समय की जरूरत है। 

यूपीएससी अभ्यर्थी हिमांशु ने कहा, 'लॉकडाउन में हमें पढ़ाई में कोई दिक्कत नहीं है। अधिकांश स्टडी मैटिरियल उपलब्ध है। हालांकि क्लासेज जरूर बंद हो गई हैं लेकिन ऑनलाइन कोर्सेज आसानी से उपलब्ध हैं। हर दिन एक सामान्य दिन की तरह है।'

Download UPSC IAS Prelims Question Paper GS 2019

एक अन्य अभ्यर्थी ने कहा, 'लॉकडाउन कोई बड़ा मुद्दा नहीं है। यह हमारे स्वास्थ्य के लिए किया गया है। हालांकि जिनकी क्लासेज चल रही थी उन्हें थोड़ा बहुत नुकसान होगा लेकिन यह जरूरी था।'

यूपीएससी सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 के लिए आवेदन की प्रक्रिया 12 फरवरी से 3 मार्च तक चली थी। हर वर्ष यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा के माध्यम से भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) और भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) सहित अन्य अखिल भारतीय सेवाओं के लिए अफसरों का चयन किया जाएगा। इस बार इसके जरिए कुल 796 भर्तियां होंगी। इनमें 24 रिक्तियां दिव्यांगों के लिए आरक्षित हैं।

यूपीएससी सिविल सेवा के जरिए इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज (आईएएस), भारतीय पुलिस सर्विसेज (आईपीएस) और भारतीय फॉरेन सर्विसेज (आईएफएस), रेलवे ग्रुप ए (इंडियन रेलवे अकाउंट्स सर्विस), इंडियन पोस्टल सर्विसेज, भारतीय डाक सेवा, इंडियन ट्रेड सर्विसेज सहित अन्य सेवाओं के लिए चयन किया जाता है।

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा तीन चरणों -- प्रारंभिक, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार-- में आयोजित की जाती है। मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार में प्रदर्शन के आधार पर फाइनल मेरिट लिस्ट जारी होती है। 

(इनपुट न्यूज एजेंसी ANI से भी)
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UPSC Civil Services Preliminary Exam 2020: know what upsc ias ips aspirants said about coronavirus lockdown