ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरUPSC : यूपी के 19 अभ्यर्थी बने IAS अफसर, लेकिन सिर्फ इन 3 को मिला अपने राज्य की सेवा का चांस

UPSC : यूपी के 19 अभ्यर्थी बने IAS अफसर, लेकिन सिर्फ इन 3 को मिला अपने राज्य की सेवा का चांस

UPSC IAS : यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2021 के बैच में उत्तर प्रदेश के रहने वाले 19 उम्मीदवार आईएएस अफसर बने हैं। इनमें से सिर्फ तीन अभ्यर्थियों को ही अपना होम कैडर यूपी अलॉट हो सका है।

UPSC : यूपी के 19 अभ्यर्थी बने IAS अफसर, लेकिन सिर्फ इन 3 को मिला अपने राज्य की सेवा का चांस
Pankaj Vijayलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 21 Nov 2022 08:14 AM
ऐप पर पढ़ें

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2021 के बैच में उत्तर प्रदेश के रहने वाले 19 उम्मीदवार आईएएस अफसर बने हैं। इनमें से सिर्फ तीन अभ्यर्थियों को ही अपना होम कैडर यूपी अलॉट हो सका है। यूपीएससी सीएसई 2021 की टॉपर श्रुति शर्मा और पांचवीं रैंक पाने वाले उत्कर्ष द्विवेदी को अपना होम कैडर यूपी मिला है। इसके रैंक 249 पाने वाले प्रफुल्ल कुमार शर्मा को भी अपने राज्य यूपी की सेवा करने का मौका मिलेगा। शेष अभ्यर्थियों को देश के अन्य राज्यों के कैडर मिले हैं। जैसे 5वीं रैंक पाने वाले यक्ष चौधरी को राजस्थान कैडर अलॉट हुआ है। यूपीएससी 2021 के कैडर अलॉटमेंट लिस्ट में देश भर से कुल 178 आईएएस ऑफिसर हैं, जिसमें से 13 आईएएस ऑफिसर यूपी को मिलने जा रहे हैं। 

यूपीएसएसी 2021 की टॉपर श्रुति शर्मा बिजनौर की रहने वाली हैं। पहले प्रयास में भाषा संबंधी कुछ परेशानी के चलते उन्हें मुख्य परीक्षा हिंदी में देनी पड़ी पड़ी थी। 2020 में वह वह एक नंबर से चूक गई थीं। श्रुति ने डीयू के सेंट स्टीफंस कॉलेज से इतिहास ऑनर्स में स्नातक और जेएनयू में इतिहास से परास्नातक किया है। उन्होंने जामिया मिल्लिया इस्लामिया की रेजिडेंशियल कोचिंग से पढ़ाई की थी। वहीं यूपीएससी 2021 के ऑल इंडिया रैंक 5 होल्‍डर उत्‍कर्ष द्विवेदी अयोध्या के रहने वाले हैं। यूपीएससी की परीक्षा में तीसरे अटेम्प्ट में उन्होंने 5वीं रैंक हासिल की। उन्होंने 2019 में VIT वेल्लूर से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक किया था।

यूपीएससी टॉपर श्रुति शर्मा को मिला यूपी कैडर, रवि सिहाग को मिला एमपी, देखें पूरी लिस्ट

उत्तर प्रदेश के निवासी ये 19 अभ्यर्थी बने IAS ऑफिसर
रैंक-1, श्रुति शर्मा
रैंक - 5, उत्कर्ष द्विवेदी
रैंक - 6, यक्ष चौधरी
रैंक - 12, यशारथ शेखर
रैंक 27, सक्षम गोयल
रैंक 54, अर्पित गुप्ता
रैंक 68, अनेन्दया राजश्री 
रैंक 77, आशुतोष कुमार
रैंक 125, मोहम्मद सबूर खान
रैंक 133, किशलय कुशवाहा
रैंक 206, आनंद कुमार सिंह
रैंक - 249, प्रफुल्ल कुमार शर्मा
रैंक - 281, सौर्य मान पटेल
रैंक -290, प्रतीक जैन
रैंक - 296, ऋतुराज प्रताप सिंह 
रैंक - 334, आलोक प्रसाद
रैंक - 357, कुमार सौरभ
रैंक - 394, सुविज्ञा चंद्रा
रैंक - 453, शिवम चंद्रा

यूपी के रहने वाले इन आईएएस अभ्यर्थियों को मिला अपना होम कैडर यूपी
रैंक-1, श्रुति शर्मा
रैंक - 5, उत्कर्ष द्विवेदी
रैंक - 249, प्रफुल्ल कुमार शर्मा
 
आपको बता दें कि यूपीएससी सिविल सर्विस एग्‍जाम 2021 का रिजल्‍ट 30 मई को जारी कर दिया गया था। परीक्षा में श्रृति शर्मा ने पहला स्थान और अंकिता अग्रावल और गरिमा सिंगला ने दूसरा और तीसरा स्थान हासिल किया था। 

upsc ias cadre allocation list : यहां देखें यूपीएससी 2021  के टॉप 20 अभ्यर्थियों में किसे मिला कौन सा  कैडेर 
रैंक 1 - श्रुति शर्मा का अपना गृह राज्य उत्तर प्रदेश का ही कैडर मिला।
रैंक 2 - वेस्ट बंगाल की अंकिता अग्रवाल को वेस्ट बंगाल कैडर मिला।
रैंक 3 - चंडीगढ़ की गामिनी सिंघला को उत्तर प्रदेश कैडर मिला।
रैंक 4 -  उत्तराखंड के ऐश्वर्या वर्मा को एमपी कैडर मिला।
रैंक 5 - यूपी के उत्कर्ष द्विवेदी को होम कैडर यूपी ही मिला।
रैंक 6 - यूपी के यक्ष चौधरी को राजस्थान कैडर मिला।
रैंक 7 - दिल्ली के सम्यक जैन को एजीएमयूटी कैडर मिला।
रैंक 8 - दिल्ली की इशिता राठी को एजीएमयूटी कैडर मिला।
रैंक 9 - राजस्थान के प्रीतम कुमार को होम कैडर राजस्थान कैडर मिला।
रैंक 11 - दिल्ली के शुंभाकर प्रत्युष पाठक को एजीएमयूटी कैडर मिला।
रैंक 12 - यूपी के यशरथ शेखर को राजस्थान कैडर मिला।
रैंक 13 - महाराष्ट्र के प्रियंवदा अशोक को होम कैडर महाराष्ट्र मिला।
रैंक 14 - दिल्ली के अभिनव जैन यूपी कैडर मिला।
रैंक 15 - आंध्र के सी यशवंतकुमार को होम कैडर आंध्र मिला।
रैंक 16 - बिहार की अंशु प्रिया को राजस्थान कैडर मिला।
रैंक 17 - हरियाणा की महक जैन को गुजरात कैडर मिला।
रैंक 18 - हिंदी मीडियम से टॉपर और ऑल इंडिया 18वीं रैंक लाने वाले राजस्थान के रवि कुमार सिहाग को मध्य प्रदेश मिला है।
 रैंक 19 - उत्तराखंड की दीक्षा जोशी को यूपी कैडर मिला।
रैंक 20 - उत्तराखंड के अर्पित चौहान का महाराष्ट्र कैडर मिला।

यूपीएससी भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) , भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस), भारतीय राजस्व सेवा (आईआरएस) समेत की तरह की सिविल सेवओं के लिए अधिकारियों का चयन करने के लिए प्रतिवर्ष तीन चरणों में प्रारंभिक, मुख्य और साक्षात्कार सिविल सेवा परीक्षा आयोजित कराती है। इस भर्ती परीक्षा में हर साल करीब 9 लाख युवा बैठते हैं।