ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरUPPSC RO ARO : फरार सुभाष ने भी दी थी परीक्षा, एमपी से कराया कराया पेपर लीक और वाराणसी में दिया एग्जाम

UPPSC RO ARO : फरार सुभाष ने भी दी थी परीक्षा, एमपी से कराया कराया पेपर लीक और वाराणसी में दिया एग्जाम

यूपीपीएससी आरओ-एआरओ की परीक्षा का पेपर लीक करने के आरोप में फरार सुभाष प्रकाश ने भी अफसर बनने का सपना देखा था। उसी ने मध्य प्रदेश से पेपर लीक कराया और खुद वाराणसी जाकर पेपर दिया था।

UPPSC RO ARO : फरार सुभाष ने भी दी थी परीक्षा, एमपी से कराया कराया पेपर लीक और वाराणसी में दिया एग्जाम
Pankaj Vijayवरिष्ठ संवाददाता,प्रयागराजWed, 05 Jun 2024 08:08 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित आरओ-एआरओ की परीक्षा का पेपर लीक करने के आरोप में फरार सुभाष प्रकाश ने भी अफसर बनने का सपना देखा था। उसी ने मध्य प्रदेश से पेपर लीक कराया और खुद वाराणसी जाकर पेपर दिया था। सुभाष प्रकाश को पेपर कहां से मिला, इसकी जांच अभी एसटीएफ कर रही है। इस रहस्य से पर्दा नहीं उठा है। सुभाष की गिरफ्तारी के बाद ही पता चलेगा कि पेपर कैसे और किसने आउट कराया।

सीओ एसटीएफ लाल प्रताप सिंह ने बताया कि आरओ-एआरओ का पेपर दो जगहों से लीक हुआ था। पहला पेपर बिशप जॉनसन गर्ल्स विंग से लीक हुआ जिसके आरोपी डॉ. शरद, स्कूल के कर्मचारी अर्पित और कमलेश पाल को जेल भेजा जा चुका है। 11 फरवरी को आयोजित पेपर शुरू होने से पहले ही इन दोनों आरोपियों ने मिलकर पेपर लीक किया था लेकिन इससे दो दिन पहले भी आरओ-एआरओ का पेपर मार्केट में आ गया था। मेजा निवासी राजीव नयन मिश्र ने भोपाल से पेपर आउट कराया था। एसटीएफ ने जब राजीव नयन को पकड़ा तो उसने कहा कि भोपाल में रहने वाले सुभाष प्रकाश ने उसे पेपर व्हाट्स एप किया था। 

मूलत बिहार का सुभाष ने भोपाल में अपना ठिकाना बनाया था। वह राजीव नयन के साथ मिलकर एडमिशन कराने का धंधा कर रहा था। इसका खुलासा होने के बाद से सुभाष प्रकाश फरार है। इस बात की आशंका है कि सुभाष ने पेपर प्रिंटिंग से पेपर आउट कराया होगा, क्योंकि इसके अलावा दूसरा विकल्प नहीं समझ आ रहा है। परीक्षा केंद्रों पर पेपर 11 फरवरी को पहुंचा था जबकि सुभाष को पहले 10 फरवरी को ही मिल गया था।

Virtual Counsellor