DA Image
29 मार्च, 2020|3:38|IST

अगली स्टोरी

UPPSC: काफी कठिन होगी पीसीएस 2019 प्री परीक्षा की डगर

uppsc  up pcs mains exam

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की पीसीएस 2019 परीक्षा की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। राज्य के प्रशासनिक पदों पर चयन के लिए होने वाली यह परीक्षा काफी कठिन होती है लेकिन पीसीएस 2019 की डगर और भी मुश्किल मानी जा रही है। इसकी छोटी-बड़ी कई वजह है। सबसे बड़ी वजह इस बार की परीक्षा में पदों की कम संख्या और आयोग द्वारा प्रति पद सफलता दर में की गई कमी है। इस कारण पीसीएस प्री 2019 की मेरिट पिछली परीक्षाओं की तुलना में काफी हाई रहेगी।


पीसीएस प्री में 309 पद घोषित किए गए हैं, परीक्षा 15 दिसंबर को होनी है। प्री का परिणाम घोषित होने से पूर्व शासन से इस संवर्ग के जितने रिक्त पदों की जानकारी मिलती है, उसे उस समय की भर्ती में शामिल कर लिया जाता है। 2019 की मुख्य परीक्षा 20 अप्रैल में प्रस्तावित है इसलिए आयोग को जनवरी के अंत या फरवरी के मध्य तक प्री का परिणाम घोषित करना होगा। मार्च या अप्रैल में पीसीएस 2020 के लिए आवेदन भी शुरू होने की संभावना है। इस वजह से पीसीएस 2019 में पदों की संख्या बढ़ने की संभावना काफी कम है।


आयोग ने प्री में प्रति व्यक्ति सफल होने वाले परीक्षार्थियों की संख्या 18 से घटाकर 13 कर दी है। 309 पदों के सापेक्ष 4017 परीक्षार्थी मुख्य परीक्षा के लिए सफल होंगे जबकि 18 गुना पर यह संख्या 5562 होती। विशेषज्ञों का मानना है कि इस बदलाव का सीधा असर पीसीएस प्री की मेरिट पर पड़ेगा। इसलिए इस यह परीक्षा पिछली परीक्षाओं की तुलना में काफी कठिन मानी जा रही है।


पीसीएस 2016 और 2017 दोनों की प्री परीक्षा में प्रश्नों को लेकर विवाद सामने आया था। हाईकोर्ट ने दोनों परिणाम संशोधित करने के आदेश दिए थे, जिस पर आयोग को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिली थी। नए अध्यक्ष डॉ. प्रभात कुमार इस तरह के विवाद से बचते हुए पीसीएस परीक्षा को सिविल सेवा परीक्षा की तरह निर्विवाद कराने के लिए प्रयासरत हैं। सूत्रों का कहना है कि पीसीएस प्री का पेपर तैयार करने में संघ लोक सेवा आयोग से जुड़े नए विशेषज्ञों की मदद ली जा रही है। जाहिर है कि इसका असर प्री के पेपर पर पड़ेगा। माना जा रहा है कि इस बार का पेपर पीसीएस की पिछली परीक्षाओं से अलग प्रकृति का होगा। जिसमें परीक्षार्थियों के किताबी ज्ञान के साथ ही विषय के व्यवहारिक ज्ञान को परखने की कोशिश की जाएगी। इसलिए भी यह परीक्षा पिछली परीक्षाओं से भिन्न और कठिन मानी जा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UPPSC: PCS 2019 pre exam will be tough due to less time gap in exams