DA Image
हिंदी न्यूज़ › करियर › UPPSC : सात महीने से फंसी 150 पीसीएस अफसरों की तैनाती
करियर

UPPSC : सात महीने से फंसी 150 पीसीएस अफसरों की तैनाती

वरिष्ठ संवाददाता,प्रयागराजPublished By: Alakha Singh
Tue, 21 Sep 2021 09:22 PM
UPPSC : सात महीने से फंसी 150 पीसीएस अफसरों की तैनाती

UPPSC : पीसीएस 2019 का अंतिम परिणाम घोषित होने के सात महीने बाद भी 150 अफसर तैनाती के लिए परेशान हैं। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने 17 फरवरी को पीसीएस 2019 का रिजल्ट जारी किया था जिसमें नायब तहसीलदार के 150 अभ्यर्थी चुने गए थे।

इनकी संस्तुति आयोग ने छह महीने पहले ही शासन को भेज दी थी। दो महीने पहले मेडिकल और पुलिस वेरीफिकेशन भी हो गया लेकिन नियुक्ति पत्र जारी नहीं हो रहा। चयनित अभ्यर्थियों का कहना है कि कई बार आयोग से लेकर शासन तक में संपर्क किया गया।

लेकिन नियुक्ति पत्र के संबंध में कोई जानकारी नहीं हो पा रही। पीसीएस 2019 के अंतिम परिणाम में 434 का चयन हुआ था। 19 पद योग्य अभ्यर्थी नहीं मिलने के कारण खाली रह गए थे। भ्रष्टाचार मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष कौशल सिंह ने सरकार से मांग की है कि जल्द नियुक्ति पत्र जारी करने की औपचारिकता पूरी कराएं।

प्राविधिक शिक्षा विभाग को मिले 25 कर्मशाला अनुदेशक
यूपीपीएससी ने प्राविधिक शिक्षा विभाग के तहत कर्मशाला अनुदेशक भर्ती का परिणाम छह साल बाद मंगलवार को जारी कर दिया। उपसचिव पुष्कर श्रीवास्तव के अनुसार सीधी भर्ती के इन पदों के लिए 8 व 9 सितंबर को साक्षात्कार कराया गया। ललित कुमार, रमेश चौहान, मिथुन कुमार, रविकांत मौर्य, गौरव कुमार कश्यप, सुनील कुमार, बसंत सिंह, दुष्यंत कुमार गंगवार, दीपक सिंह, आनंद कुमार ओझा, जगदीश सिंह कुशवाहा, अविनाश कुमार जैन, दुष्यंत सैनी, अरुण कुमार, प्रविन्द कुमार, शिवनाथ राम, कुंवर योगेन्द्र जैन, लोमिश कुमार, विपिन कुमार, अरजेश पाल सिंह, रामचन्द्र बिंद, ओमकार यादव, पूनम पांडेय, हेमलता व भारती का चयन हुआ है। 

संबंधित खबरें